प्रियंका गांधी को यूपी पुलिस ने लखीमपुर खीरी जाने से रोका, लखनऊ में ही किया 'हाउस अरेस्ट'

उत्तर प्रदेश पुलिस ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को लखीमपुर खीरी जाने से रोक दिया है। पुलिस ने उन्हेंं लखनऊ स्थित कौल हाउस में रहने को कहते हुए हाउस अरेस्ट कर लिया है।

फोटो : @INCUttarPradesh
फोटो : @INCUttarPradesh
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले के तिकुनिया गांव में हुई घटना को लेकर सियासत तेज हो गई है। वहीं उत्तर प्रदेश सरकार ने तानाशाही रवैया दिखाना शुरु कर दिया है। यूपी पुलिस ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को लखीमपुर खीरी जाने से रोक दिया है। न्यूज चैनल आजतक की खबर के मुताबिक प्रियंका गांधी को लखनऊ में ही कौल हाऊस में रहने को कहते हुए उन्हें हाउस अरेस्ट कर लिया गया है। प्रियंका गांधी आज शाम ही लखनऊ पहुंची थीं।

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी में हुई हिंसक वारदात में चार किसानों की मौत हुई है और चार अन्य लोग भी मारे गए हैं। इसके अलावा एक दर्जन से ज्यादा किसान जख्मी बताए गए हैं। आरोप है कि डिप्टी सीएम के विरोध के लिए सड़क के किनारे खड़े किसानों पर केंद्रीय मंत्री आशीष मिश्र के बेटे ने किसानों पर कार चढ़ा दी। इस घटना में चार किसानों की मौत हो गई। इसके बाद गुस्साई भीड़ ने कारों पर पथराव किया और कुछ तत्वों ने कारों में आग भी लगा दी। आरोप है कि इस दौरान गोली भी चलाई गई।

प्रियंका गांधी ने इस घटना पर दिन में भी तीखी प्रतिक्रिया दी थी। उन्होंने कहा था, "भाजपा देश के किसानों से कितनी नफ़रत करती है? उन्हें जीने का हक नहीं है? यदि वे आवाज उठाएँगे तो उन्हें गोली मार दोगे, गाड़ी चढ़ाकर रौंद दोगे? बहुत हो चुका। ये किसानों का देश है, भाजपा की क्रूर विचारधारा की जागीर नहीं है। किसान सत्याग्रह मजबूत होगा और किसान की आवाज और बुलंद होगी।"


इसके बाद उन्होंने घटना स्थल का दौरा करने की बात कही थी, जिसके लिए वे आज शाम ही लखनऊ पहुंच गई थीं। उनके साथ कांग्रेस नेता दीपेंद्र सिंह हुड्डा भी थे। दीपेंद्र हुड्डा ने भी इस घटना की निंदा करते हुए कहा था कि किसानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाने दी जा सकती। उन्होंने कहा कि यह देश किसानों का भी है। उन्होंने कहा था कि वे लखनऊ पहुंच रहे हैं।

इसके अलावा छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी लखीमपुर खीरी पहुंचने वाले हैं। उन्हें कल ही कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश चुनावों के लिए पार्टी का वरिष्ठ पर्यवेक्षक नियुक्त किया है। वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने भी कल लखीमपुर खीरी पहुंचने का ऐलान किया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia