यूपीः हत्याकांड में भगोड़े पूर्व सांसद का क्रिकेट खेलते वीडियो वायरल, अखिलेश ने BJP के 'फर्क साफ' पर साधा निशाना

अजीत सिंह हत्याकांड के एक साल हो गए, मगर अब तक इस मामले का आरोपी और 25 हजार का इनामी धनंजय सिंह बेखौफ घूम रहा है और क्रिकेट के लुत्फ उठा रहा है। इनामी और भगोड़ा घोषित होने के बावजूद यूपी पुलिस उसे नहीं ढूंढ पा रही है, जबकि वह अक्सर खुलेआम घुमता नजर आता है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश में अजीत सिंह हत्याकांड मामले में भगोड़े आरोपी जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह का मैच खेलते हुए वीडियो वायरल होने के बाद योगी सरकार पर सवाल खड़े हो गए हैं। इसे लेकर एसपी प्रमुख अखलेश यादव और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के ओम प्रकाश राजभर ने भाजपा के चुनावी नारे 'फर्क साफ' है पर निशाना साधा है।

समाजवादी पार्ट ने ट्वीट करते हुए कहा कि "मुख्यमंत्री से जुड़े माफिया खेल रहे क्रिकेट। 25000 रूपये के इनामी माफिया धनंजय सिंह सत्ता के संरक्षण में पुलिस की नाक के नीचे ले रहे खुले आसमान के नीचे खेल का मजा। डबल इंजन सरकार के बुलडोजर को नहीं मालूम इनका पता। जनता सब देख रही, बाईस में भाजपा साफ।"

वहीं सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने लिखा, "भाजपा का काम अपराधी सरेआम। बाबा जी अपने करीबी नालबद्ध माफियाओं के टॉप टेन की सूची बनाकर एक टीम बना लें और आईपीएल की तरह एक 'एमबीएल' मतलब "माफिया भाजपा लीग" शुरू कर दें। शहर के पुलिस कप्तान तो उनके लिए पिच बिछाए बैठे ही हैं, और टीम कप्तान वो खुद हैं ही हो गए पूरे ग्यारह।"


उधर सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रमुख ओम प्रकाश राजभर ने भी निशाना साधते हुए कहा, "डबल इंजन' सरकार के बुलडोजर का तेल खत्म हो गया है। उत्तर प्रदेश की जातिवादी भाजपा सरकार अपने जाति के माफिया को संरक्षण देती है। 25 हजार के इनामी को पुलिस पकड़ नही पाती क्योंकि वह मुख्यमंत्री की जाति से जुड़ा माफिया है और वह सरेआम खेल रहा क्रिकेट, उप्र की जनता सब समझती है। भाजपा जीरो पर आउट होगी।"

यह पहली बार नहीं है, जब धनंजय सिंह सार्वजनिक कार्यक्रमों में पहुंचा है। जुलाई में फरार घोषित होने के बाद वह कई बार खुले घूमते देखा गया है। नवंबर महीने में जौनपुर में एसपी बंगले के पास एक क्रिकेट मैच के उद्घाटन के लिए भी धनंजय पहुंचा था। फरार होने के दौरान धनंजय ने अपनी पत्नी श्रीकला रेड्डी को जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर चुनाव भी जितवाया। इस बार क्रिकेट मैच में फोटो सेशन भी करवाया। वीडियो के वायरल होने के बाद उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) मुकुल गोयल ने कहा है कि "अब इसकी जांच की जाएगी और नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।"


बता दें कि अजीत सिंह हत्याकांड के एक साल हो गए, मगर अब तक इस मामले में आरोपी और 25 हजार का इनामी धनंजय सिंह बेखौफ घूम रहा है और क्रिकेट के लुत्फ उठा रहा है। भगोड़े और पूर्व बाहुबली सांसद धनंजय सिंह का जो वीडियो सामने आया है, उसमें वह क्रिकेट मैच का उद्घाटन करते दिख रहा है और बल्ला भी चलाता दिखता है। 25 हजार का इनामी और भगोड़ा घोषित होने के बावजूद धनंजय को यूपी पुलिस नहीं ढूंढ पा रही है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia