राज्यसभा में नागालैंड फायरिंग को लेकर हंगामा, कार्यवाही दोपहर 3 बजे तक के लिए स्थगित

नागालैंड फायरिंग की घटना को लेकर राज्यसभा में जोरदार हंगामा हुआ। जिसके बाद राज्यसभा की कार्यवाही सोमवार दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

फोटो: राज्यसभा
फोटो: राज्यसभा
user

नवजीवन डेस्क

नागालैंड फायरिंग की घटना को लेकर राज्यसभा में जोरदार हंगामा हुआ। जिसके बाद राज्यसभा की कार्यवाही पहले दोपहर दो बजे तक और फिर 3 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। सोमवार को यह तीसरा स्थगन है जब विपक्ष ने नागालैंड गोलीबारी को लेकर सदन के कामकाज को स्थगित करने की अपनी मांग जारी रखी ।

दोपहर 12 बजे उच्च सदन की बैठक फिर से शुरू होने के तुरंत बाद, उपसभापति हरिवंश नारायण सिंह ने प्रश्नकाल शुरू किया, लेकिन विपक्षी सदस्य नारेबाजी करने लगे और उनमें से कुछ तख्तियां लेकर वेल में आ गए।

इस बीच, एक सवाल के जवाब में, आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि केंद्र सरकार उज्‍जवला 2.0 के तहत ग्रामीण परिवारों के लक्ष्य को बढ़ाना सुनिश्चित करेगी, जिसे इस साल अगस्त में पेश किया गया था और इससे महामारी के दौरान लाखों परिवारों को मदद मिली है।


हरिवंश दोहराते रहे कि प्रश्नकाल महत्वपूर्ण है और विपक्ष को कामकाज में सहयोग करना चाहिए। लेकिन उपसभापति की सलाह का विपक्षियों पर कोई असर नहीं पड़ा और उन्होंने सदन को दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया।

इससे पहले, सभापति एन. वेंकैया नायडू ने भी विपक्ष से शून्यकाल चलने देने की अपील की, लेकिन वे कार्यवाही को स्थगित करने और गोलीबारी की घटना पर चर्चा की अनुमति देने की मांग करते रहे।


यह देखते हुए कि घटना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण थी, नायडू ने बताया कि उन्होंने रक्षा और गृह मंत्रियों से बात की है और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को आज सदन में एक बयान देंगे। केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने भी कहा कि सरकार संवेदनशील है और मामलों को लेकर चिंतित है और गृह मंत्री दोपहर में एक बयान देंगे।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia