उत्तर प्रदेश: हापुड़ की फैक्ट्री में हुए धमाके में मरने वालों की संख्या बढ़कर हुई 13, कई मजदूरों की हालत गंभीर

पुलिस के मुताबिक, हापुड़ जिला मुख्यालय से करीब 22 किलोमीटर दूर धौलाना क्षेत्र में यूपीआईडी की इलेक्ट्रिक सामान बनाने वाली एक फैक्टरी में भीषण आग लग गई। फैक्टरी में तेज विस्फोट के साथ चारों ओर आग फैल गई।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के हापुड़ की एक फैक्ट्री में हुए विस्फोट में मरने वालों की संख्या बढ़कर 13 हो गई है। यह जानारी जिला अधिकारी मेधा रूपम ने दी है। शनिवार दोपहर बाद धौलाना में इलेक्ट्रॉनिक समान बनाने वाली एक फैक्टरी में विस्फोट के बाद भीषण आग लग लगने से यह मजदूर जिंदा जल गए। 21 मजदूर घायल हैं। घायलों को नजदीक के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जहां कई मजदूरों की हालत नाजुक बनी हुई है।

फैक्ट्री में हुए धमाके में मारे गए लोगों पर हापुड़ की डीएम मेधा रूपम ने कहा, “कल रात तक 12 लोगों की मृत्यु हुई थी आज एक और व्यक्ति की मृत्यु हुई है। 21 लोग घायल हैं। फॉरेंसिक टीम आई और उन्होंने सैंपल लिए हैं। ब्लास्ट के कारणों पर जांच चल रही है क्योंकि कंपनी को इलेक्ट्रॉनिक उपकरण की अनुमति थी।”

उन्होंने कहा, “लेकिन क्या हुआ और किन चीज़ों का प्रयोग हो रहा था फॉरेंसिक की रिपोर्ट आएगी तो पता चलेगा। हमने UPSIDC की चौकी और धौलाना चौकी पर हेल्प डेस्क नंबर जारी किए हैं जिसमें नंबर भी दी गई है। मैं अनुरोध करूंगी कि किसी के पास भी अगर कोई जानकारी है तो हमें बताएं।”

पुलिस के मुताबिक, हापुड़ जिला मुख्यालय से करीब 22 किलोमीटर दूर धौलाना क्षेत्र में यूपीआईडी की इलेक्ट्रिक सामान बनाने वाली एक फैक्टरी में भीषण आग लग गई। फैक्टरी में तेज विस्फोट के साथ चारों ओर आग फैल गई। कुछ ही देर में आग ने विकराल रूप धारण कर लिया और फैक्टरी में काम करने वाले करीब दो दर्जन मजदूर फंस गए।


जब तक आग बुझाने का काम शुरू होता, अन्दर फंसे छह मजदूरों की जिंदा जल जाने से मौत हो गई जबकि अस्पताल में भर्ती अन्य मजदूरों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। गंभीर रूप से झुलसे 12 से ज्यादा श्रमिकों का इलाज जारी है।

ज्वलनशील पदार्थ के आग पकड़ने के वजह से आग काफी बेकाबू हो गई। आसपास के जिलों से कई दमकल गाड़ियों को बुलाना पड़ा। काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। मेरठ रेंज के पुलिस महानिरीक्षक प्रवीण कुमार ने बताया कि घायलों को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है और जो भी इसके लिये जिम्मेदार होगा उस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 05 Jun 2022, 10:27 AM