उत्तर प्रदेश में अब इमरजेंसी सेवा के लिए 100 नहीं, डायल करना होगा 112, एक ही नंबर पर मिलेंगी सभी सुविधाएं

भारत के कई राज्यों में आपातकालीन हेल्पलाइन के लिए पहचान रखने वाला 112 नंबर उत्तर प्रदेश में भी आज से लागू हो गया है।प्र देश में आज से आपात स्थित में 100 नंबर की जगह अब 112 नंबर डायल करना होगा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश में 26 अक्टूबर यानी आज से इमरजेंसी सेवा के लिए 100 नंबर की जगह 112 नंबर डायल करना होगा। लखनऊ में आज सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के सभी जिलों में इसकी विधिवत शुरुआत की। इसके साथ ही सीएम योगी ने ‘112 इंडिया ऐप’ भी लॉन्च किया। बता दें कि 100 नंबर को 112 नंबर पर बदलने की प्रक्रिया पहले ही पूरी कर ली गई थी। इस नंबर को डायल कर पुलिस, दमकल विभाग, एंबुलेंस और जीवनरक्षक एजेंसियों की सेवा प्राप्त की जा सकेगी। डीजीपी ओम प्रकाश सिंह ने पहले ही इसका सर्कुलर जारी कर दिया था।

आपातकाल में फायर सर्विस, एंबुलेंस, पुलिस सहायता, पुलिस हेल्पलाइन की मदद के लिए अब तक लोगों को अलग-अलग नंबर डायल करने पड़ते थे। लेकिन आज से सभी सुविधाओं के लिए 112 नंबर डॉयल करने पड़ेंगे। 112 नंबर भारत के कई राज्यों में आपातकालीन हेल्पलाइन के लिए पहले से इस्तेमाल हो रहा है। अब यह उत्तर प्रदेश के लिए भी लागू हो गया है।

अच्छी बात यह है कि लोगों की सुविधा के लिए नई प्रणाली के तहत 112 नंबर से डायल नंबर 100 (पुलिस), 101 (दमकल) और 108 (स्वास्थ्य) सेवाओं को एक साथ जोड़ दिया गया है। इससे पहले इमरजेंसी सेवाओं के लिए 20 से अधिक आपात नंबर थे।

पुलिस अधिकारियों की मानें तो आज से भले ही 112 नंबर पर कॉल कर पुलिस हेल्पलाइन सेवा का शुभारंभ किया जा रहा है, लेकिन डायल 100 सेवा भी फिलहाल काम करती रहेगी। दरअसल नयी सेवा के बारे में अभी व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार किया जाएगा। ऐसी स्थिति में कुछ समय के लिए 100 नंबर को भी चालू रखा जाएगा।

लोकप्रिय
next