उत्तर प्रदेश: जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या बढ़कर 29 हुई, 40 से ज्यादा का अस्पताल में इलाज जारी

उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब के चलते मरने वाले का सिलसिला जारी है। शनिवार को एक और व्यक्ति की मौत हो गई, इसके साथ ही प्रदेश में इस घटना में मरने वालों की संख्या बढ़कर 29 हो गई है।

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब से शनिवार को एक और व्यक्ति की मौत हो गई, इसके साथ ही प्रदेश में इस घटना में मरने वालों की संख्या बढ़कर 29 हो गई है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। एक अधिकारी ने बताया कि कुशीनगर जिले के रहने वाले रवींद्र ने शनिवार सुबह एक अस्पताल में दम तोड़ दिया, जहां उसका पिछले दो दिनों से इलाज चल रहा था। इस मौत के साथ, कुशीनगर में ही जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या 11 हो गई है।

सहारनपुर जिला, जहां जहरीली शराब से 18 लोगों की मौत हुई है, वहां के जिलाधिकारी आलोक कुमार पांडे ने बताया कि अभी भी 42 लोगों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में हो रहा है। इसमें कई लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है।

उन्होंने कहा कि पीड़ित हरिद्वार के बालापुर गांव में तेरहवीं के भोज में शामिल हुए थे और वहां शराब पीने के बाद बीमार पड़ गए।

इस बीच, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर राज्य पुलिस ने अवैध रूप से शराब निर्माण और बिक्री के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है। बांदा सहित राज्य के विभिन्न हिस्सों में छापे मारे गए हैं जहां बड़ी मात्रा में अवैध शराब जब्त की गई। राज्य सरकार ने कुशीनगर के डिस्ट्रिक्ट एक्साइज ऑफिसर और डिस्ट्रिक्ट एक्साइज इंस्पेक्टर के साथ कई अन्य को पहले ही निलंबित कर दिया है।

वहीं लोगों का आरोप है कि काफी दिनों से अवैध शराब की बिक्री हो रही थी। स्थानीय लोगों ने पुलिस पर मिलीभगत का आरोप लगाया है। आरोप है कि पुलिस अगर पहले कार्रवाई की होती तो आज यह नौबत नहीं आती।

Published: 9 Feb 2019, 11:23 AM
लोकप्रिय