उत्तर प्रदेशः सील इलाके में कोरोना पीड़ित के घर चोरी, योगी राज में पुलिस का नया कारनामा

ये पता नहीं लग सका है कि घर से क्या-क्या चोरी गया है, क्योंकि पूरा परिवार अस्पताल में है, जिसकी वजह से घर खाली था। अब परिवार के अस्पताल से आने पर ही पता चल पाएगा कि क्या-क्या चोरी गया है। लेकिन इस बीच शहर में पुलिस द्वारा सील इलाके में चोरी से हड़कंप है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में एक कोरोना वायरस पीड़ित परिवार के घर में चोरी का मामला सामने आया है। खास बात ये है कि पूरे परिवार में कोरोना वायरस की पुष्टि होने पर प्रशासन ने पूरे इलाके को हॉटस्पॉट घोषित कर पीड़ित के घर के आसपास के इलाके को सील कर रखा है। उसके बावजूद चोरों ने घर को निशाना बना लिया। फिलहाल पुलिस घटना की जांच करने का दावा कर रही है।

जानकारी के अनुसार बरेली जिले के सुभाषनगर इलाके का एक युवक नोएडा में रहता था। नोएडा में कोरोना वायरस के मामले सामने आने के बाद वह अपने घर लौट आया था। उसके यहां आने की खबर लगने पर, जब उसकी जांच कराई गई तो उसमें कोरोना वायरस की पुष्टि हुई। उसके अलावा उसकी पत्नी समेत घर के पांच और सदस्यों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई।

बीते दिनों पूरे परिवार में कोरोना होने की बात सामने आने के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया था। आनन-फानन में पूरे परिवार को यहां के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराकर इलाज किया जा रहा है। इस बीच हालात की गंभीरता को देखते हुए पीड़ित परिवार के घर के आसपास के इलाके में पुलिस ने आवाजाही पर रोक लगा दी थी। शासन के निर्देश पर इलाके को हॉटस्पॉट घोषित कर पीड़ित के घर के आसपास के डेढ़ किमी. के इलाके को सील कर दिया गया था।

इस बीच रविवार की रात चोरों ने मोहल्ले में घुसकर पीड़ित परिवार के घर को निशाना बना लिया।चोरों ने बाजाप्ता ताला तोड़कर घर में जमकर हाथ साफ किया। चोर मजे से पूरी रात घर पर हाथ साफ करते रहे और किसी को कुछ पता नहीं चला। सोमवार की दोपहर के बाद आस-पड़ोस के लोगों ने जब घर का ताला टूटा देखा तो पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने भी घर का बाहर से ही मुआयना किया, क्योंकि घर सैनिटाइज नहीं किया गया है।

फिलहाल ये पता नहीं लग सका है कि घर से क्या-क्या सामान चोरी गया है, क्योंकि पूरा परिवार ही अस्पताल में है, जिसकी वजह से घर पर ताला लगा था। अब परिवार के अस्पताल से आने पर ही पता चल पाएगा कि क्या-क्या चोरी गया है। लेकिन इस बीच शहर में पुलिस द्वारा सील इलाके में चोरी से हड़कंप है। पुलिस हालांकि दावा कर रही है कि आरोपियों की पहचान कर जल्द गिरफ्तारी की जाएगी। लेकिन लोगों का सवाल है कि जब सील इलाके में जहां हर वक्त पुलिस का पहरा होता है, वहां पुलिस-प्रशासन के नाक के नीचे से चोरी हो सकती है, तो बाकी इलाकों का क्या होगा।

लोकप्रिय