आजादी को भीख बताने पर कंगना पर भड़के वरुण गांधी, पूछा- इसे पागलपन कहा जाए या फिर देशद्रोह?

हाल में एक निजी चैनल के कार्यक्रम में बोलते हुए फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत ने 1947 में मिली आजादी की तुलना भीख से करते हुए कहा था कि 1947 में मिली आजादी, आजादी नहीं, भीख थी और असली आजादी तो 2014 में मिली है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत से बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने 1947 में मिली आजादी के बारे में फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत द्वारा दिए गए अपमानजनक बयान को लेकर उन पर करारा हमला बोला है। वरुण ने कंगना रनौत की सोच पर सवाल उठाते हुए कहा कि यह लाखों स्वतंत्रता सेनानियों की कुर्बानियों का तिरस्कार है। इस सोच को पागलपन कहा जाए या फिर देशद्रोह?

कंगना रनौत के बयान वाले वीडियो को शेयर करते हुए वरुण गांधी ने ट्वीट किया, "कभी महात्मा गांधी जी के त्याग और तपस्या का अपमान, कभी उनके हत्यारे का सम्मान, और अब शहीद मंगल पाण्डेय से लेकर रानी लक्ष्मीबाई, भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद, नेताजी सुभाष चंद्र बोस और लाखों स्वतंत्रता सेनानियों की कुर्बानियों का तिरस्कार। इस सोच को मैं पागलपन कहूं या फिर देशद्रोह?"


दरअसल, हाल में एक निजी चैनल के कार्यक्रम में बोलते हुए फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत ने 1947 में मिली आजादी की तुलना भीख से करते हुए कहा था कि 1947 में मिली आजादी, आजादी नहीं, भीख थी और असली आजादी तो 2014 में मिली है। बता दें कि 2014 में ही बीजेपी ने केंद्र में सरकार बनाई थी। हाल ही में कंगना रनौत को देश के प्रतिष्ठित अवार्ड पद्मश्री से सम्मानित किया गया है।

हाल के दिनों में बीजेपी सांसद वरुण गांधी किसान आंदोलन, लखीमपुर खीरी हिंसा, गन्ने भुगतान के मूल्य और धान की खरीद जैसे मुद्दों पर अपने बयानों को लेकर लगातार चर्चा में रहे हैं। वरुण गांधी के बयानों की वजह से पार्टी के लिए कई बार असहज स्थिति भी उत्पन्न हुई है। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने उन्हें राष्ट्रीय कार्यकारिणी से बाहर कर संदेश देने की कोशिश भी की लेकिन इसके बाद भी वरुण लगातार अपनी सरकार के कामकाज को लेकर ट्वीट करते रहे और अब उन्होंने आजादी के मसले पर कंगना रनौत द्वारा दिए गए बयान को लेकर उन पर भी निशाना साध दिया।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia