पटियाला में दो गुटों के बीच हिंसक झड़प, कर्फ्यू का ऐलान, राहुल गांधी ने जताया दुख, कहा- दृश्य विचलित करने वाले हैं...

पटियाला में शुक्रवार को दो कट्टरपंथी समूहों के बीच हुए झड़प में दो लोग घायल हो गए, पुलिस ने कहा कि स्थिति को नियंत्रण में कर लिया गया है। तलवारें और धारदार हथियार लिए दोनों गुटों ने एक दूसरे पर पथराव किया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पटियाला में शुक्रवार को दो कट्टरपंथी समूहों के बीच हुए झड़प में 4 लोग घायल हो गए, पुलिस ने कहा कि स्थिति को नियंत्रण में कर लिया गया है। तलवारें और धारदार हथियार लिए दोनों गुटों ने एक दूसरे पर पथराव किया। झड़प का कारण एक संगठन द्वारा आयोजित एक मार्च माना जा रहा है, जिसको लेकर दूसरे संगठन ने नाराजगी जाहिर की।

पुलिस ने कथित तौर पर प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए हवाई फायरिंग की।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नानक सिंह ने मीडिया को बताया कि स्थिति को नियंत्रण में कर लिया गया है।

तनावपूर्ण हालात को देखते हुए पुलिस-प्रशासन ने कर्फ्यू लगा दिया है। जानकारी के मुताबिक पटियाला शहर में आज शाम 7 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू लागू रहेगा। पटियाला में हुई झड़प की इस घटना को लेकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) नानक सिंह ने बताया है कि खालिस्तान विरोधी मार्च के दौरान हुई हिंसा में चार लोग घायल हुए हैं। उन्होंने बताया कि घायलों में दो पुलिसकर्मी भी शामिल हैं।

पुलिस उपायुक्त साक्षी साहनी ने एक संदेश में लोगों से शांति और सद्भाव बनाए रखने का आग्रह करते हुए कहा कि अगर कोई विवाद या गलतफहमी है, तो उसे बातचीत से सुलझाना महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि वर्तमान स्थिति नियंत्रण में है और लगातार निगरानी की जा रही है।


इस घटना पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने चिंता जताई है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'पटियाला के दृश्य विचलित करने वाले हैं। मैं दोहराता हूं, पंजाब जैसे संवेदनशील सीमावर्ती राज्य में शांति और सद्भाव सबसे जरूरी है। यह प्रयोग करने की जगह नहीं है।' राहुल गांधी ने पंजाब सरकार से अपील की है कि राज्य में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए सरकार गंभीरता से काम करे।

वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने ट्वीट किया, "पटियाला में झड़प की घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। मैंने डीजीपी से बात की.. इलाके में शांति बहाल कर दी गई है। हम स्थिति पर करीब से नजर रख रहे हैं और किसी को भी राज्य में अशांति पैदा नहीं करने देंगे। पंजाब की शांति और सद्भाव अत्यंत महत्वपूर्ण है।"


घटना के लिए राजनीतिक विरोधियों को जिम्मेदार ठहराते हुए आप प्रवक्ता मलविंदर सिंह कांग ने कहा, "सरकार इस मामले से प्रभावी ढंग से निपट रही है।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 29 Apr 2022, 6:11 PM