कासगंज: मारे गए युवक चंदन गुप्ता के अंतिम संस्कार के बाद फिर भड़की हिंसा, स्थिति तनावपूर्ण

यूपी के कासगंज में तिरंगा यात्रा के दौरान हिंसा में मारे गए युवक चंदन गुप्ता का कड़ी सुरक्षा के बीच अंतिम संस्कार कर दिया गया। अंतिम संस्कार से लौटते वक्त एक बार फिर से भीड़ उग्र हो गई।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के कासगंज में तिरंगा यात्रा के दौरान हुई हिंसा में मारे गए युवक चंदन गुप्ता का कड़ी सुरक्षा के बीच अंतिम संस्कार कर दिया गया। अंतिम संस्कार से लौटते ही भीड़ उग्र हो गई। जुलूस के रूप में लौटते लोगों ने आसपास के दुकानों में आग लगा दी। रास्ते में आए सब्जी के ठेलों को भी पलट दिया। इस दौरान भीड़ ने शहर के दुकानों में तोड़फोड़ की। प्रशासन और पुलिस हालात पर काबू पाने की कोशिश कर रही है, लेकिन स्थिति फिलहाल नियं‌त्रण में नहीं है। आगरा जोन के एडीजी अजय आनंद, आईजी अलीगढ़ डा. संजीव गुप्ता, कमिश्नर अलीगढ़ सुभाष चंद्र शर्मा मौके पर कैंप किए हुए हैं।

अंतिम संस्कार से पहले मृतक के परिजनों ने सरकार से 50 लाख रुपए मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग की। सीएम योगी आदित्यनाथ ने चंदन की मौत पर गहरा शोक जाहिर करते हुए प्रशासन से पीड़ित परिवार की हर संभव मदद करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही प्रशासन को उपद्रवी तत्वों से सख्ती से निपटने के निर्देश दिए हैं।

पुलिस-प्रशासन की ओर से लोगों से शांति बनाए रखने की अपील लगातार की जा रही है।

गणतंत्र दिवस के मौके पर नगर कोतवाली क्षेत्र में बिलराम गेट चौराहे पर विश्व हिंदू परिषद और एबीवीपी के कार्यकर्ता बाइक से रैली निकाल रहे थे। इस दौरान नारेबाजी को लेकर समुदाय विशेष के लोगों से बहस हो गई। जिसके बाद दोनों तरफ से फायरिंग, पत्थरबाजी हुई। जिसमें तिरंगा यात्रा में शामिल एक युवक चंदन गुप्ता की गोली लगने से मौत हो गई थी।

26 जनवरी को नाराज भीड़ ने कई वाहनों में तोड़फोड़ और आगजनी की थी। अलीगढ़ मंडल के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) संजीव गुप्ता ने बताया कि गणतंत्र दिवस पर रैली निकालते समय कुछ असामाजिक तत्वों ने पथराव किया। उन्होंने बताया कि शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है, स्थिति तनावपूर्ण है।

कलेक्टर आरपी सिंह के मुताबिक, कुछ शरारती तत्वों ने माहौल बिगाड़ने की कोशिश की है। कई गाड़ियों में तोड़फोड़ और आगजनी की गई। सभी मामलों पर जांच की जा रही है, जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;