रमजान के दौरान वोटिंग को लेकर मचा घमासान, कई नेताओं ने उठाए सवाल, जानिए किस राज्य में हैं कितनी सीटें

कोलकाता के मेयर और टीएमसी नेता फिरहाद हकीम ने आरोप लगाया है कि बीजेपी चाहती है कि अल्पसंख्यक अपना वोट न डालें इसलिए रमजान के दौरान रोजे का ख्याल नहीं रखा गया।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

चुनाव आयोग द्वारा लोकसभा चुनाव 2019 की तारीखों का ऐलान के बाद महासंग्राम शुरू हो गया है। दूसरी ओर कई विपक्षी दलों के नेताओं ने पवित्र माह रमजान के दौरान वोटिंग कराने को लेकर सवाल उठाया है। कोलकाता के मेयर और टीएमसी नेता फिरहाद हकीम ने आरोप लगाया है कि बीजेपी चाहती है कि अल्पसंख्यक अपना वोट न डालें इसलिए रमजान के दौरान रोजे का ख्याल नहीं रखा गया।

उन्होंने आगे कहा, “चुनाव आयोग एक संवैधानिक संस्था है और हम उसका सम्मान करते हैं। हम उनके खिलाफ कुछ नहीं बोलना चाहते हैं। लेकिन 7 चरणों में चुनाव बिहार, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के लोगों के लिए मुश्किल होगा। यह उन लोगों के लिए सबसे ज्यादा मुश्किल होगा जिनका उस समय रमजान चल रहा होगा।”

उन्होंने आगे कहा, “इन तीन राज्यों में अल्पसंख्यक आबादी काफी ज्यादा है। वह रोजा रखकर वोट डालेंगे। चुनाव आयोग को इस बात को अपने दिमाग में रखना चाहिए। बीजेपी चाहती है कि अल्पसंख्यक अपना वोट न डालें। लेकिन हम इससे चिंतित नहीं हैं। लोग बीजेपी हटाओ-देश बचाओ को लेकर प्रतिबद्ध हैं।”

इससे पहले दिल्ली के ओखला विधानसभा सीट से विधायक अमानतुल्लाह खान ने भी रमजान के दौरान वोटिंग पर सवाल उठा चुके हैं। रविवार को बीजेपी सरकार पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि 12 मई का दिन होगा दिल्ली में रमजान होगा मुसलमान वोट कम करेगा इसका सीधा फायदा बीजेपी को होगा।”

गौरतलब है कि बिहार में 17 फीसदी मुसलमान, यूपी में 20 फीसदी और पश्चिम बंगाल में 27 फीसदी के लगभग मुस्लिम आबादी है।

आइए जानते है कि रमजान के दौरान कहां-कहां चुनाव होने वाले हैं।

उत्तर प्रदेश में 41 सीटों पर रमजान के दौरान वोटिंग होने वाली है। 6 मई को होने वाले पांचवें चरण में कुल 14 सीटों पर वोटिंग होगी।

6 मई: धौरहरा, सीतापुर, मोहनलालगंज (सु.), लखनऊ, रायबरेली, अमेठी, बांदा, फतेहपुर, कौशांबी (सु.), बाराबंकी (सु.), फैजाबाद, बहराइच, कैसरगंज और गोंडा में मतदान होगा.

12 मई : छठे चरण में सुल्तानपुर, प्रतापगढ़, फूलपुर, इलाहाबाद, अंबेडकर नगर, श्रावस्ती, डुमरियागंज, बस्ती, संतकबीरनगर, लालगंज (सु.), आजमगढ़, जौनपुर, मछली शहर (सु.) और भदोही समेत कुल 14 सीटों के लिए मतदान होगा।

19 मई: सातवें चरण में महराजगंज, गोरखपुर कुशीनगर देवरिया बांसगांव (सु.), घोसी सलेमपुर बलिया गाजीपुर चंदौली वाराणसी मिर्जापुर और रॉबर्ट्सगंज (सु.) समेत कुल 13 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे। यानी रमजान के दौरान यूपी की कुल 80 सीटों में 41 लोकसभा सीटों पर मतदान होगा।

बिहार की बात करे तो 21 सीटों पर रमजान के दौरान वोटिंग होने वाली है।

6 मई: सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, सारण और हाजीपुर में मतदान होगा।

12 मई: वाल्मीकिनगर, पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, शिवहर, वैशाली, गोपालगंज, सीवान और महाराजगंज सीटों पर मतदान होगा।

19 मई: पटना साहिब, नालंदा, पाटलिपुत्र, आरा, बक्सर, सासाराम, जहानाबाद और काराकाट में वोटिंग होगी।

पश्चिम बंगाल में रमजान के दौरान वोटिंग

पश्चिम बंगाल में कुल 42 लोकसभा सीटें हैं। इस बार यहां 6 मई को पांचवें चरण के तहत 7, 12 मई को छठे चरण के तहत 8 सीट और 19 मई को सातवें चरण के तहत 9 सीटों पर मतदान होना है यानी रमजान के दौरान कुल 24 सीटों पर मतदान होगा।

दिल्ली में रमजान के दौरान वोटिंग

दिल्ली की सभी सात सीटों पर 12 मई को वोटिंग कराई जाएगी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 11 Mar 2019, 10:15 AM
;