हरियाणा में 18 नगर परिषदों, 28 नगर पालिकाओं के लिए वोटिंग, कांग्रेस और BJP-JJP गठबंधन के बीच मुकाबला

राज्य चुनाव आयुक्त धनपत सिंह के मुताबिक, 18 नगर परिषदों के 456 वाडरें में अध्यक्ष पद के लिए 185 उम्मीदवार मैदान में हैं। इनमें 100 पुरुष और 85 महिलाएं हैं। हालांकि, 456 वाडरें में से 15 पार्षद सर्वसम्मति से चुने गए हैं, जबकि शेष 441 वार्डो में 1,797 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

हरियाणा में 18 नगर परिषदों और 28 नगर पालिकाओं के लिए मतदान जारी है। मतगणना 22 जून को होगी। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। मुख्य मुकाबला राज्य की सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी)-जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) गठबंधन और कांग्रेस के बीच है। जबकि आम आदमी पार्टी का हरियाणा में यह पहला निकाय चुनाव है।

मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के विपरीत, बीजेपी-जजपा गठबंधन और आप पार्टी के चुनाव चिह्न् पर चुनाव लड़ रहे हैं। कांग्रेस के कई सदस्य निर्दलीय के रूप में मैदान में उतरे हैं।

2019 के चुनावों में, आप ने 90 सदस्यीय विधानसभा में से 46 पर चुनाव लड़ा, लेकिन केवल 0.48 प्रतिशत के वोट शेयर के साथ अपमानजनक हार का सामना करना पड़ा।

राज्य चुनाव आयुक्त धनपत सिंह ने मीडिया को बताया कि 18 नगर परिषदों के 456 वाडरें में अध्यक्ष पद के लिए 185 उम्मीदवार मैदान में हैं। इनमें 100 पुरुष और 85 महिलाएं हैं। हालांकि, 456 वाडरें में से 15 पार्षद सर्वसम्मति से चुने गए हैं, जबकि शेष 441 वार्डो में 1,797 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। सिंह के मुताबिक, 18 नगर परिषदों में 12.60 लाख मतदाता हैं, जिनमें 663,870 पुरुष, 596,095 महिलाएं और 35 ट्रांसजेंडर हैं।

नगर निगम चुनाव के लिए कुल 1,290 मतदान केंद्र बनाए गए हैं, जिनमें से 289 संवेदनशील और 235 अति संवेदनशील हैं। 28 नगर पालिकाओं के 432 वाडरें में 221 उम्मीदवार अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ रहे हैं, जिनमें 128 पुरुष और 93 महिलाएं हैं। 432 पार्षदों में से 33 को सर्वसम्मति से चुना गया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia