जब अचानक टीकरी बॉर्डर पहुंचे दिल्ली पुलिस प्रमुख, जवानों से मिलकर सुरक्षा का लिया जायजा

इस दौरान दिल्ली पुलिस आयुक्त एस एन श्रीवास्तव ने टीकरी बॉर्डर और आसापास के इलाकों में तैनात पुलिस अधिकारियों और जवानों के साथ बातचीत किया। उन्होंने कहा कि कठोर सर्दियों के दौरान वे अपेक्षित तौर पर अपने कर्तव्यों का निर्वाह कर रहे हैं।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

विवादित कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर किसानों का आंदोलन लगातार जारी है। दिल्ली-हरियाणा के बीच टीकरी बॉर्डर पर भी किसान पूरे जोश ओ खरोश के साथ जमे हुए हैं। लेकिन शुक्रवार की शाम को यहां उस समय थोड़ी हलचल मच गई जब अचानक दिल्ली पुलिस प्रमुख एस एन श्रीवास्तव टीकरी बॉर्डर का दौरा करने पहुंच गए। उनके साथ दिल्ली पुलिस के कई वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

इस दौरान दिल्ली पुलिस आयुक्त एस एन श्रीवास्तव ने टीकरी बॉर्डर और आसापास के इलाकों में तैनात पुलिस और सीएपीएफ कर्मियों से मुलाकात की। श्रीवास्तव ने ट्वीट किया, "किसान आंदोलन के मद्देनजर तैनात दिल्ली पुलिस अधिकारियों/जवानों और सीएपीएफ कर्मियों के साथ बातचीत करने के लिए बहादुरगढ़ के साथ लगती दिल्ली की सीमा का दौरा किया। कठोर सर्दियों के दौरान वे अपेक्षित तौर पर अपने कर्तव्यों का निर्वाह कर रहे हैं।"

दूसरी तरफ केंद्र के कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का आंदोलन आज 17वें दिन में प्रवेश कर गया है और हर दिन के साथ और तेज और मजबूत होता जा रहा है। प्रदर्शन कर रहे किसानों ने शनिवार को कहा कि उन्होंने सितंबर में लागू किए गए विवादास्पद कृषि कानूनों के खिलाफ अपना आंदोलन तेज करने का फैसला किया है और उनके यूनियन के नेता 14 दिसंबर को भूख हड़ताल पर बैठेंगे।

इस बीच केंद्र से कई दौर की बातचीत फेल होने के बाद किसानों ने प्रदर्शनों को 'अखिल भारतीय' पैमाने पर विस्तारित करने की योजना बनाई है। किसानों के प्रदर्शन के बीच सिंघु बॉर्डर, औचंदी, प्याऊ मनियारी और मंगेश बॉर्डर बंद हैं। दिल्ली यातायात पुलिस ने मोटर चालकों को लामपुर, सफियाबाद, सबोली और सिंघु स्कूल टोल टैक्स सीमाओं के माध्यम से वैकल्पिक मार्ग लेने की सलाह दी है। मुकरबा और जीटीके रोड से भी ट्रैफिक डायवर्ट किया गया है। यातायात पुलिस ने यात्रियों से बाहरी रिंग रोड, जीटीके रोड, एनएच-44 से बचने का भी अनुरोध किया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia