मध्य प्रदेश में कम होते कोरोना मामलों के बीच कब खुलेंगे कॉलेज? राज्य सरकार ने बताया

कॉलेज की कक्षाओं में सिर्फ 50 फीसदी छात्रों के बैठने की व्यवस्था की जाएगी, वैक्सीन के दोनो डोज लगने का प्रमाण पत्र छात्र को दिखाना होगा, उसके बाद ही वे कक्षा में बैठ सकेंगे। वहीं, कॉलेज के स्टॉफ को कोरोना से बचाव के सारे तरीके अपनाना होंगे और वैक्सीन के दोनों डोज जरूरी होंगे।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

मध्य प्रदेश में कोरोना सक्रमण की दूसरी लहर कमजोर पड़ चुकी है और आमजनजीवन को सामान्य बनाने के प्रयास जारी है। उसी क्रम में कॉलेज भी खोलने की तैयारी शुरू हो गई है। महाविद्यालयों का शैक्षणिक सत्र सितंबर में शुरू होगा। राज्य के उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने संवाददाताओं से चर्चा करते हुए कहा कि अगस्त में दाखिले की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी जाएगी, सितंबर में महाविधायलयो को खोला जाएगा। महाविद्यालयों को खोलते समय कोरेाना की तय गाइड लाइन का पालन किया जाएगा।

उन्होंने आगे कहा कि कॉलेज की कक्षाओं में सिर्फ 50 फीसदी छात्रों के बैठने की व्यवस्था की जाएगी, वैक्सीन के दोनो डोज लगने का प्रमाण पत्र छात्र को दिखाना होगा, उसके बाद ही वे कक्षा में बैठ सकेंगे। वहीं, कॉलेज के स्टॉफ को कोरोना से बचाव के सारे तरीके अपनाना होंगे और वैक्सीन के दोनों डोज जरूरी होंगे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia