यूपी लाते समय हो सकता है मुख्तार अंसारी का फर्जी एनकाउंटर, पत्नी ने राष्ट्रपति को पत्र लिख जताई आशंका

हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब की रोपड़ जेल में बंद उत्तर प्रदेश के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को दो हफ्ते के अंदर यूपी की जेल में शिफ्ट करने का आदेश दिया था। अब मुख्तार की पत्नी ने ट्रांसफर के दौरान उनकी हत्या की आशंका जताई है।

फाइल फोटोः सोशल मीडिया
फाइल फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के मऊ से बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की पत्नी ने बुधवार को राष्ट्रपति को पत्र लिखकर अंसारी को पंजाब से उत्तर प्रदेश लाने के दौरान उनकी फर्जी मुठभेड़ में हत्या की आशंका जताई है। अंसारी की पत्नी ने राष्ट्रपति से गुहार लगाई है कि विधायक को ट्रांसफर किये जाने के दौरान सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम सुनिश्चित करने का आदेश दें।

‘आज तक’ के अनुसार बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की पत्नी अफशां अंसारी ने राष्ट्रपति को लिखे अपने पत्र में कहा है कि उनके पति मुख्तार अंसारी इस समय पंजाब की रोपड़ जेल में बंद हैं। सुप्रीम कोर्ट ने पिछले शुक्रवार को उन्हें 2 हफ्ते के अंदर यूपी की जेल में भेजने का आदेश दिया है। ऐसे में उन्हें पंजाब की जेल से यूपी की जेल ट्रांस्फर किया जाएगा।

अफशां ने अपने पत्र में आग कहा है कि उनके पति एक मामले में चश्मदीद गवाह हैं, जिसमें बीजेपी के विधान परिषद सदस्य और माफिया बृजेश सिंह और त्रिभुवन सिंह अभियुक्त हैं। ये दोनों सरकारी तंत्र की कथित मिलीभगत से लगातार अंसारी को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। ऐसे में इस बात का खतरा है कि पंजाब की जेल से यूपी शिफ्ट किये जाते समय रास्ते में फर्जी मुठभेड़ की आड़ में मुख्तार अंसारी की हत्या की जा सकती है।

बता दें कि मुख्तार अंसारी को पंजाब के रोपड़ में व्यापारी को फोन पर धमकी देने के एक मामले में वारंट पर पिछले साल जनवरी में यूपी की बांदा जेल से पंजाब के रोपड़ जेल ले जाया गया था। पिछले हफ्ते सुप्रीम कोर्ट ने मुख्तार अंसारी को रोपड़ जेल से दो हफ्ते के अंदर उत्तर प्रदेश की जेल में शिफ्ट करने का आदेश दिया है। अंसारी पर यूपी में बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की हत्या समेत 2 दर्जन से अधिक मामले चल रहे हैं।

इस बीच यूपी सरकार ने मुख्तार अंसारी पर पोटा लगाने वाले पूर्व डीएसपी शैलेंद्र सिंह पर दर्ज मुकदमा वापस ले लिया है। एसटीएफ की वाराणसी यूनिट के प्रभारी डीएसपी रहे शैलेंद्र सिंह ने जनवरी 2004 में बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की हत्या से पहले मुख्तार अंसारी द्वारा एलएमजी खरीदने का खुलासा करते हुए एलएमजी बरामद कर मुख्तार पर पोटा भी लगा दिया था।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;