नोएडा में तेजी से फैल रहा कोरोना के ओमिक्रॉन का एक्सबीबी 1 सब वैरिएंट, जीनोम सीक्वेंसिंग की रिपोर्ट से खुलासा

डॉक्टरों के मुताबिक ये नया वैरिएंट ओमिक्रॉन फैमिली का है। ये इम्यूनिटी को तोड़ सकता है और आसानी से संक्रमित कर सकता है। ये म्यूटेशन भी कर सकता है। हालांकि यह कम घातक है, लेकिन लापरवाही नहीं बरत सकते हैं। प्रदेश में इसी वैरिएंट के केस सबसे ज्यादा आ रहे हैं।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली से सटे नोएडा में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों के लिए ओमिक्रॉन का सब वैरिएंट एक्सबीबी 1 जिम्मेदार है। जिले में हाल में सामने आए मामलों के जीनोम एनालिसिस से यह बात सामने आई है। रिपोर्ट से पता चला है कि नोएडा में अधिकांश मरीजों में ये सब वैरिएंट ही है।

इसके अलावा रिपोर्ट से पता चला है कि नोएडा में एक्सबीबी 1.5, एक्सबीबी 2.3 सब वैरिएंट के मरीज भी हैं। यहां एक्सबीबी 1 सब वैरिएंट ने तेजी से संक्रमण को फैलाया है। इसकी रफ्तार पहले से 104 गुना तेज है। यदि सावधानी नहीं बरती गई तो ये कोरोना की नई लहर का रूप ले सकता है।


डॉक्टरों के मुताबिक ये नया वैरिएंट ओमिक्रॉन फैमिली का है। ये हमारी इम्यूनिटी को तोड़ सकता है और हमें आसानी से संक्रमित कर सकता है। ये म्यूटेशन भी कर सकता है। हालांकि यह घातक कम है। इसलिए लापरवाही नहीं बरती जानी चाहिए। पूरे प्रदेश में भी इसी वैरिएंट के केस सबसे ज्यादा आ रहे हैं। इसके अलावा महाराष्ट्र और दिल्ली में भी एक्सएक्सबी और सब वैरिएंट एक्सएक्सबी 1 के मामले हैं।

नोएडा में जेपी अस्पताल में भर्ती आठ कोरोना मरीजों के सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से भेजे गए थे। इनमें पहले तीन सैंपल 27 मार्च और बाद के सभी सैंपल 30 मार्च को भेजे गए थे। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक ये इन सभी मरीजों पर नजर बनी हुई है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;