झारखंड में 'आपका अधिकार-आपके द्वार' अभियान शुरू, सीएम हेमंत बोले- घर तक पहुंचाएंगे लाभ

आपके अधिकार, आपकी सरकार, आपके द्वार अभियान के तहत राज्य की 4300 से ज्यादा पंचायतों और सभी नगर निकायों में कैंप लगाकर लोगों के आवेदनों का मौके पर निपटारा होगा। इन कैंपों में नये राशन कार्ड, पेंशन, जॉब कार्ड बनाने सहित अन्य समस्याओं का निराकरण किया जाएगा।

फोटोः @HemantSorenJMM
फोटोः @HemantSorenJMM
user

नवजीवन डेस्क

विभिन्न सरकारी योजनाओं तक जरूरतमंद लोगों की पहुंच आसान करने और राशन कार्ड, किसान क्रेडिट कार्ड, पेंशन योजना, जॉब कार्ड सहित विभिन्न तरह के आवेदनों का मौके पर निपटारा करने के लिए झारखंड सरकार ने 15 नवंबर से 'आपके अधिकार, आपकी सरकार, आपके द्वार' अभियान शुरू किया है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बिरसा मुंडा के जन्मस्थल खूंटी जिले के उलिहातू गांव में आयोजित एक कार्यक्रम में इस अभियान का उद्घाटन किया। यह अभियान आगामी 45 दिनों तक चलेगा। इसका समापन 29 नवंबर को हेमंत सोरेन सरकार की दूसरी वर्षगांठ के मौके पर होगा।

अभियान का उद्घाटन करते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि भगवान बिरसा मुंडा की प्रेरणा है कि अब आदिवासियों के हक की आवाज दिल्ली तक पहुंच रही है। आज उनकी जयंती पर इस कार्यक्रम की शुरूआत का उद्देश्य यह है कि लोगों को अपने अधिकारों के लिए भटकना नहीं पड़े, बल्कि सरकार खुद उनके घर तक जाकर उन तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने अब 60 साल से अधिक उम्र के सभी बुजर्गों को पेंशन योजना से जोड़ने का निर्णय लिया है। इसमें बीपीएल की शर्त हटा दी गयी है। किसी भी तबके के बुजुर्ग को यह लाभ मिल सकेगा।


आपके अधिकार, आपकी सरकार, आपके द्वार अभियान के तहत राज्य की 4300 से ज्यादा पंचायतों और सभी नगर निकायों में कैंप लगाकर लोगों के आवेदनों का मौके पर निपटारा जाएगा। इन कैंपों में खाद्य सुरक्षा योजना के अंतर्गत नये राशन कार्ड स्वीकृति के लिए आवेदन पत्रों की स्वीकृति, राशन कार्ड की त्रुटियों को दूर करने, पेंशन प्राप्त करने में लाभान्वितों को हो रही समस्या का निराकरण किया जाएगा।

साथ ही मनरेगा के तहत नये जॉब कार्ड, राज्य लौटने वाले प्रवासी श्रमिकों के लिए प्राथमिकता के तौर पर जॉब कार्ड बनाने, हड़िया-दारू बिक्री में लगी महिलाओं की पहचान कर उन्हें फूलो-झानो आशीर्वाद योजना से जोड़कर वैकल्पिक रोजगार देने, जमीन का लगान की रसीद काटने, नियुक्ति पत्र, परिसंपत्तियों का वितरण, कृषि ऋण माफी, ई-श्रम पोर्टल पर निबंधन के आवेदन सहित विभिन्न मामलों का निपटारा मौके पर ही किया जाएगा।

इस योजना के दौरान कैंपों में कोविड जांच और टीकाकरण की भी व्यवस्था रहेगी। आज इस अभियान के उद्घाटन के मौके पर ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम, श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता और सीएम के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का भी उपस्थित रहे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia