पश्चिम बंगाल: बीरभूम हिंसा मामले में यूथ कांग्रेस ने मानवाधिकार आयोग में दर्ज कराई शिकायत, स्वतंत्र जांच की मांग

युवा कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल सरकार के खिलाफ बीरभूम के बक्तुई गांव में लोगों की हत्याओं की स्वतंत्र जांच की मांग करते हुए मानवाधिकार आयोग में एक शिकायत दर्ज कराई है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पश्चिम बंगाल सरकार के खिलाफ बीरभूम के बक्तुई गांव में लोगों की हत्याओं के मामले में यूथ कांग्रेस ने मानवाधिकार आयोग का रूख किया है। एडवोकेट अमरीश रंजन पांडे, राष्ट्रीय सचिव, भारतीय युवा कांग्रेस और एडवोकेट अंबुज दीक्षित, राष्ट्रीय कॉर्डिनेटर, कानूनी प्रकोष्ठ, भारतीय युवा कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल सरकार के खिलाफ बीरभूम के बक्तुई गांव में लोगों की हत्याओं की स्वतंत्र जांच की मांग करते हुए मानवाधिकार आयोग में एक शिकायत दर्ज कराई है।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक टीएमसी ने क्षेत्र में राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ हिंसा की लहर छेड़ दी है, जिसके परिणामस्वरूप क्षेत्र में आगजनी और हत्याएं हो रही हैं। टीएमसी के गुंडों द्वारा मारे जाने के डर से गांव से लोगों का बड़े पैमाने पर पलायन भी हो रहा है. इसलिए, यूथ कांग्रेस ने शिकायत संख्या 4562/IN/2022 होने के मामले में स्वतंत्र जांच की मांग करते हुए NHRC के समक्ष एक शिकायत दर्ज की गई है।

आपको बता दें, पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय नेता की हत्‍या कर दी गई थी। इस हत्या के कुछ देर बाद ही रामपुरहाट के करीब बक्तुई गांव में दर्जनभर झोपड़ियों को आग लगा दी गई। इसमें दो बच्चों और तीन महिलाओं समेत आठ लोगों की जलने से मौत हो गई।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia