अमर जवान ज्योति हटाने के खिलाफ यूथ कांग्रेस का प्रदर्शन, फूंका सरकार का पुतला, BJP पर शहीदों के अपमान का लगाया आरोप

यूथ कांग्रेस ने कहा कि अमर जवान ज्योति बुझाना, उन वीरों के साहस और बलिदान का अपमान है, जिन्होंने 1971 के युद्ध में पाकिस्तान के दो टुकड़े किए थे। वीरता के इतिहास को मिटाने की भाजपाई साजिश कोई देशभक्त बर्दाश्त नहीं करेगा। मोदी सरकार का ये रवैया बहुत घृणित है।

फोटोः विपिन
फोटोः विपिन
user

नवजीवन डेस्क

राजधानी दिल्ली में इंडिया गेट पर स्थापित अमर जवान ज्योति की मशाल की लौ नेशनल वॉर मेमोरियल की लौ में मिलाए जाने के खिलाफ आज यूथ कांग्रेस ने विरोध मार्च निकाला। यूथ कांग्रेस ने बीजेपी पर शहीदों के सम्मान के साथ ओछी राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि बहुत दु:खद है कि हमारे वीर जवानों के लिए जो अमर ज्योति जलती थी, उसके लिए सरकार यह तर्क दे रही है कि बजट की कमी चलते यह निर्णय लिया गया है।

शुक्रवार दोपहर को सैंकड़ो यूथ कांग्रेस कार्यकर्ता दिल्ली की सड़कों पर उतरे और मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए अमर जवान ज्योति हटाए जाने का विरोध किया। इस दौरान युवा कार्यकर्ताओं ने विरोध में मोदी सरकार का पुतला दहन भी किया। इस दौरान दिल्ली पुलिस कर्मियों ने मौका देखकर आग पर काबू पाया और यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं को जबरन वहां से हटाने का प्रयास भी किया।

अमर जवान ज्योति हटाने के खिलाफ यूथ कांग्रेस का प्रदर्शन, फूंका सरकार का पुतला, BJP पर शहीदों के अपमान का लगाया आरोप
फोटोः विपिन

प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी ने कहा कि जिस ज्योति का नाम ही 'अमर' जवान ज्योति है, आखिर बीजेपी की ओछी राजनीति की ऐसी क्या मजबूरी थी जो उसे बुझाया जा रहा है? मोदी सरकार बार-बार देश के शहीदों को अपमानित करने का काम कर रही है, जो कि अत्यंत ही शर्मनाक है।

श्रीनिवास बी वी ने आगे कहा कि, बहुत दुख की बात है कि हमारे वीर जवानों के लिए जो अमर ज्योति जलती थी, उसके लिए सरकार यह तर्क दे रही है की बजट की कमी चलते यह निर्णय लिया गया है, जब सरकार हजारों करोड़ का हवाई जहाज खरीद सकती है तो क्या शहीदों के लिए जल रही ज्योति के लिए बजट नहीं निकाल सकती है।

अमर जवान ज्योति हटाने के खिलाफ यूथ कांग्रेस का प्रदर्शन, फूंका सरकार का पुतला, BJP पर शहीदों के अपमान का लगाया आरोप
फोटोः विपिन

यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं के अनुसार, अमर जवान ज्योति को बुझाना, उन वीरों के साहस और बलिदान का अपमान है, जिन्होंने 1971 के युद्ध में पाकिस्तान के दो टुकड़े किए थे। वीरता के इतिहास को मिटाने की भाजपाई साजिश को कोई देशभक्त बर्दाश्त नहीं करेगा। शहीदों के अपमान का मोदी सरकार का ये रवैया बहुत घृणित है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia