दिल्लीः यूथ कांग्रेस ने मोदी सरकार के खिलाफ राजभवन का किया घेराव, कहा- अडानी पर जवाब तो देना ही होगा

श्रीनिवास ने कहा कि बीजेपी संसद की मर्यादा और लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाने के नए आयाम गढ़ रही है, अडानी कांड पर जेपीसी जांच से बचने के लिए कल पहली बार सत्ताधारी सांसदों ने सदन नही चलने दिया। डर बता रहा है कि पीएम के दामन पर भ्रष्टाचार के कितने गहरे दाग हैं।

फोटोः @IYC
फोटोः @IYC
user

नवजीवन डेस्क

भारतीय युवा कांग्रेस ने आज मोदी सरकार की अडानी से जनविरोधी मित्रता के खिलाफ दिल्ली में राजभवन का घेराव किया। युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी के नेतृत्व में अनेकों युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने राजनिवास पर प्रदर्शन किया। हालांकि युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने पहले ही बैरिकेडिंग कर सभी को रोकने की कोशिश की। इस दौरान युवा कार्यकर्ताओं और पुलिस में जमकर धक्कामुकी और नोंकझोंक हुई।

भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी वरुण पांडेय ने बताया कि राजभवन घेराव के दौरान भारतीय युवा कांग्रेस के अनेकों कार्यकर्ता राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी के नेतृत्व में चंदगीराम अखाड़ा सिविल लाइंस, नई दिल्ली पर एकत्रित हुए, इस दौरान पुलिस ने बैरिकेडिंग कर युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को रोकने की कोशिश की और कई युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया।


इससे पहले प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी ने कहा कि मोदी सरकार के 'मित्रवादी पूंजीवाद' ने देश में आर्थिक संकट के हालात पैदा कर दिए हैं। आम जनता के खून-पसीने की कमाई डूब रही है, लेकिन मोदी खामोश हैं। उन्होंने आगे कहा कि राहुल गांधी जी ने संसद में अडानी समूह पर लगे आरोपों पर सरकार से कुछ सवालों के जवाब मांगे हैं। पर प्रधानमंत्री मोदी अडानी मामले में 'मौनी बाबा' बने हुए हैं। एलआईसी, एसबीआई में लगा जनता का पैसा 'अडानी' को क्यों दिया गया, इसका जवाब तो उन्हें देना ही होगा।

भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने यह भी कहा कि जैसा की राहुल गांधी जी ने कहा है कि अगर अडानी उनके मित्र नहीं हैं तो मोदी जी को संसद में कहना चाहिए था कि वो अडानी समूह की जांच कराएंगे, पर वो मौन हैं, इससे साफ है कि प्रधानमंत्री अडानी को बचा रहे हैं। मोदी जी संसद में इधर उधर की बात करते रहे, बस ये नहीं बता पाए कि उनके 'परम मित्र' ने देश को कैसे लूटा?


श्रीनिवास ने कहा कि मोदी सरकार, संसद की मर्यादाओं और लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाने के रोजाना नए आयाम बना रही है, अडानी कांड पर जेपीसी जांच की मांग से बचने के लिए कल पहली बार संसद में सत्ताधारी सांसदों ने सदन नही चलने दिया। डर बता रहा है कि प्रधानमंत्री के दामन पर भ्रष्टाचार के कितने गहरे दाग हैं। उन्होंने मांग की कि अडानी महाघोटाले की जेपीसी जांच हो और जब तक जेपीसी जांच नहीं होती, तब तक संसद से लेकर सड़क तक संग्राम जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार सदन से भाग रही है और उनके 'परम मित्र' को बचाने के लिए सदन स्थगित करा रही है। मोदी जी भागिए मत, जवाब दीजिए.. देश की जनता जवाब चाहती है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */