जल्द ही भारत के टीकाकरण अभियान का हिस्सा होगी ये वैक्सीन, कीमतों को लेकर निर्माता के साथ चल रही बातचीत

जायडस जायकोव-डी वैक्सीन कोविड -19 के खिलाफ जल्द ही भारत के बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियान का हिस्सा होगी। स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि इसके मूल्य निर्धारण के मुद्दों पर निर्माता के साथ बातचीत चल रही है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

जायडस जायकोव-डी वैक्सीन कोविड -19 के खिलाफ जल्द ही भारत के बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियान का हिस्सा होगी। स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि इसके मूल्य निर्धारण के मुद्दों पर निर्माता के साथ बातचीत चल रही है। देश भर में कोविड की स्थिति पर एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए भूषण ने कहा कि इस वैक्सीन की कीमत, जो सुई रहित है और जिसमें तीन खुराक की आवश्यकता होती है, मौजूदा टीकों से अलग होगी।

उन्होंने कहा, "जहां तक वैक्सीन की कीमत का सवाल है, जिस पर इसे खरीदा जाएगा, हम निर्माता के साथ बातचीत कर रहे हैं। चूंकि यह तीन-खुराक वाला टीका है और सुई-रहित वितरण प्रणाली के साथ आता है, इसलिए मौजूदा टीकों की तुलना में जो टीकाकरण अभियान में उपयोग किए जा रहे हैं इसकी अलग-अलग कीमत होगी।"


रोल-आउट के लिए कोई समय सीमा दिए बिना, उन्होंने कहा कि जायडस कैडिला वैक्सीन को अल्पावधि में बाजार में नहीं लाया जाएगा, लेकिन यह भारत के कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम का हिस्सा होगा। जायकोव-डी वैक्सीन को भारत के नियामक प्राधिकरण ने 20 अगस्त को मंजूरी दी थी।

निर्माता के अनुसार, तीन खुराक वाले डीएनए निर्मित टीके में कोविड के खिलाफ 66.6 प्रतिशत प्रभावकारिता है। इस बीच, भारत में शुक्रवार को पिछले 24 घंटों में 26,727 नए कोविड मामले और 277 मौतें दर्ज की गई हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia