खाली हो रही हैं राज्यसभा की 55 सीटें, 26 मार्च को चुनाव के लिए अधिसूचना जारी

इस साल अप्रैल और मई महीने में खाली हो रहीं राज्यसभा की 55 सीटों के लिए आज अधिसूचना जारी कर दी गई। देश के 17 राज्यों की इन 55 सीटों के लिए 26 मार्च को चुनाव होंगे और उसी दिन मतगणना होगी।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

आगामी अप्रैल और मई महीने में राज्यसभा की 55 सीटें खाली होने जा रही हैं। 17 राज्यों से आने वाली इन 55 सीटों के चुनाव के लिए चुनाव आयोग ने आज अधीसूचना जारी कर दी। निर्वाचन आयोग द्वारा घोषित चुनाव कार्यक्रम के अनुसार राज्यसभा में खाली हो रहीं 17 राज्यों की 55 सीटों के लिए 26 मार्च को मतदान होगा और उसी दिन मतगणना भी होगी।

गौरतलब है कि 17 राज्यों से 48 राज्यसभा सदस्यों का कार्यकाल आगामी 2 अप्रैल को और दो राज्यों से 5 राज्यसभा सदस्यों का कार्यकाल 3 अप्रैल और झारखंड से 2 सदस्यों का कार्यकाल 3 मई को समाप्त हो रहा है। जिन सीटों पर मतदान कराए जाएंगे उनमे महाराष्ट्र से सात सीट, बिहार से पांच, उड़ीसा से चार, तमिलनाडु से छह, पश्चिम बंगाल से पांच, आंध्र प्रदेश से चार, तेलंगाना से दो, असम से तीन, छतीसगढ़ से दो, गुजरात से चार, हिमाचल प्रदेश से एक, झारखंड से दो, मध्यप्रदेश से तीन, मणिपुर से एक, राजस्थान से तीन और मेधली से एक सीट पर मतदान कराए जाएंगे।

चुनाव कार्यक्रम के मुताबिक, इन सीटों पर चुनाव के लिए नामांकन की अंतिम तिथि 13 मार्च तय की गई है। वहीं, नामांकन पत्रों की जांच 16 मार्च को होगी और नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि 15 मार्च है। सभी सीटों के लिए मतदान 26 मार्च को सुबह नौ बजे से शाम चार बजे तक होगा और शाम पांच बजे मतगणना होगी।

जिन सदस्यों का कार्यकाल पूरा होने से राज्यसभा की ये सीटें खाली हुई हैं, उनमें गृह मंत्री अमित शाह और दिवंगत बीजेपी नेता अरुण जेटली की सीट भी है। गौरतलब है कि लोकसभा सदस्य चुने जाने के बाद अमित शाह ने राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। इसके अलावा जिन अन्य राज्यसभा सांसदों का कार्यकाल खत्म हो रहा है, उनमें बीजेपी नेता आर के सिन्हा, राज्यसभा के उपसभापति और जेडीयू सांसद हरिवंश, कहकशां परवीन , रामनाथ ठाकुर और बीजेपी सांसद प्रभात झा जैसे नेता शामिल हैं।

इनके अलावा जिन प्रमुख नेताओं का कार्यकाल खत्म हो रहा है उनमें केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, रामदास अठावले, दिल्ली बीजेपी नेता विजय गोयल, कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह और एनसीपी प्रमुख शरद पवार के नाम भी शामिल हैं।

बता दें कि फिलहाल राज्यसभा में बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए और अन्य मित्रदलों की सदस्य संख्या 106 है, जिसमें अकेली बीजेपी सांसदों की संख्या 82 है, जबकि 425 सदस्यीय राज्यसभा में बहुमत के लिए 123 सदस्यों की आवश्यकता होती है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

लोकप्रिय