यूपी चुनाव से पहले भाजपा में भूचाल, मंत्री धर्म सिंह सैनी समेत कई विधायकों ने दिया पार्टी से इस्तीफा

औरया से बिधूना विधायक विनय शाक्य और योगी सरकार में आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी ने इस्तीफा दे दिया है। धर्म सिंह सैनी स्वामी प्रसाद मौर्य के बेहद करीबी है। दोनों ने पार्टी के प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी में भगदड़ मच गया है। पार्टी भले ही यूपी चुनाव में जीत का दावा कर रही हो लेकिन जिस तरह से मंत्री विधायक पार्टी छोड़ भाग रहे हैं, उससे तो यही लगता है कि बीजेपी की स्थिति ठीक नहीं है। बीते कुछ दिनों में पार्टी के कई बड़े नेता पार्टी को बाय बाय बोल चुके हैं। ये सिलसिला आज भी जारी है। गुरुवार को तीसरा जबकि अब तक 9वें बीजेपी नेता का इस्तीफा आ गया है। औरया से बिधूना विधायक विनय शाक्य और योगी सरकार में आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी ने इस्तीफा दे दिया है। धर्म सिंह सैनी स्वामी प्रसाद मौर्य के बेहद करीबी है। दोनों ने पार्टी के प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। बुधवार को ही विनय शाक्य ने बीजेपी से जाने का ऐलान किया था। विधायक ने कहा कि स्वामी प्रसाद जहां कहेंगे वहां जाएंगे।

विनय शाक्या ने इस्तीफे के साथ साथ बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा को एक पत्र भी लिखा है। इस पत्र में उन्होंने योगी सरकार पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने लिखा है कि योगी सरकार के कार्यकाल में दलित, पिछड़ों और अल्पसंख्यक समुदाय के नेताओं और जनप्रतिनिधियों को कोई तवज्जों नहीं दी गई और न उन्हें उचित सम्मान दिया गया। शाक्या ने सरकार पर दलितों, पिछड़ों, किसानों की उपेक्षा करने के भी आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा है कि स्वामी प्रसाद मौर्य शोषितों और पीड़ितों की आवाज हैं। वे हमारे नेता हैं, मैं उनके साथ हूं।


इससे पहले आज शिकोहाबाद से भाजपा विधायक मुकेश वर्मा ने इस्तीफा दे दिया। शिकोहाबाद के विधायक ने भी स्वामी प्रसाद मौर्य, दारा सिंह चैहान समेत अन्य विधायकों की तरह अपने पत्र में लिखा है कि भाजपा सरकार में दलित, पिछड़े और अल्पसंख्यक समुदाय से ताल्लुक रखने वाले नेताओं को तवज्जों नहीं दी गई। सरकार में किसानों, बेरोजगारों एवं छोटे कारोबारियों की उपेक्षा की गई है। वर्मा ने कहा है कि स्वामी प्रसाद मौर्य उनके नेता हैं। मुकेश वर्मा ने भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से भी इस्तीफा दिया है।

इसके पहले इन विधायकों ने पहले छोड़ी पार्टी:

1. बदायूं जिले के बिल्सी से विधायक राधा कृष्ण शर्मा।

2. सीतापुर से विधायक राकेश राठौर।

3. बहराइच के नानपारा से विधायक माधुरी वर्मा।

4. संतकबीरनगर से भाजपा विधायक जय चैबे।

5. स्वामी प्रसाद मौर्य, कैबिनेट मंत्री

6. भगवती सागर, विधायक, बिल्हौर कानपुर

7. बृजेश प्रजापति, विधायक

8. रोशन लाल वर्मा, विधायक

9. अवतार सिंह भड़ाना, विधायक

10. दारा सिंह चैहान, कैबिनेट मंत्री

11. मुकेश वर्मा, विधायक

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 13 Jan 2022, 2:13 PM