छापेमारी को अखिलेश ने बताया BJP की खीझ, कहा- नफरत की दुर्गंध फैलाने वाले लोग, सौहार्द की सुगंध को कैसे पसंद करेंगे

अखिलेश यादव ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि मैं पहले ही कह रहा था कि पीयूष जैन के यहां छापा गलती से पड़ गया। आज उन्होंने इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन के यहां छापेमारी की कार्रवाई को अंजाम दिया है।

फोटो: ANI
फोटो: ANI
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले रेड और छापेमारी का दौर शुरू हो गया है। कन्नौज के इत्र कारोबारी के घर आयकर विभाग के छापेमारी को लेकर भारतीय जनता पार्टी और समाजवादी पार्टी आमने-सामने हैं। पीयूष जैन के बाद पुष्पराज जैन के यहां आयकर विभाग ने छापा मारा है। इस छापेमारी पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने सवाल उठाए हैं। अखिलेश यादव ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि मैं पहले ही कह रहा था कि पीयूष जैन के यहां छापा गलती से पड़ गया। आज उन्होंने  इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन के यहां छापेमारी की कार्रवाई को अंजाम दिया है। भारतीय जनता पार्टी विकास की बात तो करती नहीं और कन्नौज में जो भी विकास कार्य हुए हैं वह भी इनके कारण अधूरे हैं।  कन्नौज का इत्र के साथ बहुत पुराना इतिहास रहा है, यहां के व्यापारियों ने देश और  दुनिया नाम कमाया लेकिन अब इस छवि को धूमिल किया जा रहा है।

सपा मुखिया ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि नफरत की दुर्गंध फैलाने वाले भाजपा के लोग, सौहार्द की सुगंध को कैसे पसंद करेंगे। ये समाजवादी इत्र बनाने वाले पुष्पराज जैन को ढूंढने गए थे और उन्होंने अपनी ही साथी पीयूष जैन को ढूंढ निकाला। उन्होंने आगे कहा कि यहां कोई विकास का काम तो किया नहीं, न कोई अस्पताल बनवाया, न स्कूल बनवाए। मुझे पहले ही सूचना मिली थी कि समाजवादी लोगों पर छापे पड़ेंगे। कन्नौज का इतिहास हमेशा से सुगंध का रहा है लेकिन भाजपा यहां नफरत की दुर्गंध फैला रही है। किसानों पर भी निशाना साधा जा रहा है। अखिलेश ने कहा कि भाजपा ने कन्नौज के सभी विकास कार्यों को रोक दिया है।


अखिलेश ने कहा कि बीजेपी ने गलती से अपने ही आदमी के घर छापा मरवा दिया और जब उनकी सच्चाई सामने आ गई तो अब अपनी खीझ मिटाने के लिए समाजवादी इत्र बनाने वाले पुष्पराज जैन के यहां छापा मारा है और इनके साथ कई और भी लपेटे में आ गए हैं क्योंकि भाजपा को दिखाना है कि हम निष्पक्ष हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia