झारखंड पहुंचे चिदंबरम बीजेपी पर बरसे, बोले- नाकाबिल रघुवर सरकार को सत्ता से बाहर करना ही होगा

कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने झारखंड और केंद्र की बीजेपी सरकारों पर हमला करते हुए लोगों से रघुवर दास सरकार को उखाड़ फेंकने की अपील की। उन्होंने कहा कि यह चुनाव एक ओर बीजेपी और दूसरी ओर धर्मनिरपेक्ष प्रगतिशील दलों के बीच जारी संघर्ष का एक अहम पड़ाव सिद्ध होगा।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पूर्व वित्तमंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम शुक्रवार को झारखंड की राजधानी रांची पहुंचे, जहां उन्होंने केंद्र और राज्य की बीजेपी सरकारों पर जमकर हमला बोला। उन्होंने आंकड़ों के साथ अर्थव्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि देश और राज्य दोनों नाकाबिल हाथों में है। उन्होंने कहा कि झारखंड के लोगों से अपील है की कि वे बीजेपी को सत्ता से बाहर करें। चिदंबरम ने कहा, ‘‘हरियाणा में हमने बीजेपी को नुकसान (डेंट) पहुंचाया, महाराष्ट्र में हमने उसका रास्ता (डिनाई) रोक दिया और अब झारखंड में लोगों से अपील है कि यहां वे बीजेपी को हराकर (डिफीट) सत्ता से बाहर करें।

करीब 106 दिन जेल में रहकर बुधवार को बाहर आए चिदंबरम झारखंड विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और गठबंधन सहयोगियों के लिए प्रचार करने शुक्रवार को रांची में थे। इस दौरान उन्होंने देश की बदहाल अर्थव्यवस्था का जिक्र करते हुए कहा कि आशंका है कि जीडीपी का विकास दर 5 प्रतिशत के भी नीचे चला जाएगा, जो एक बेहद गंभीर स्थिति है। उन्होंने कहा कि अगर भारत की अर्थव्यवस्था में तेजी आती है, तो महाराष्ट्र, तमिलनाडु, केरल तेजी से विकास करेंगे और साथ में झारखंड भी विकास करेगा, लेकिन जब देश की अर्थव्यवस्था डूबेगी, तो उसका असर उन राज्यों के बजाय झारखंड पर ज्यादा होगा।

झारखंड की बीजेपी सरकार को घेरते हुए उन्होंने कहा कि पिछले पांच साल में राज्य बुरी तरह से पिछड़ गया है। झारखंड की विकास दर राष्ट्रीय औसत से भी 2% कम है। वहीं, प्रति व्यक्ति आय के मामले में झारखंड पहले 28वें स्थान पर था, अब यह 30वें पर आ गया है। बीजेपी सरकार के दौरान राज्य में गरीबी बढ़ी है। उन्होंने कहा कि जिस देश में अनाज की इतनी पैदावार होती हो वहां लोग भुखमरी के शिकार हो रहे हों यह शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि झारखंड की बीजेपी की रघुवर दास सरकार बहुत ही नाकाबिल है और कुप्रबंधन में डूबी हुई है, इसलिए बीजेपी को सत्ता से बाहर करना ही होगा।

पूर्व वित्त मंत्री ने झारखंड के लिए कांग्रेस के जनघोषणा पत्र को वहां के युवाओं के लिए तोहफा बताते हुए कहा कि बेरोजगारी के मामले में झारखंड देश में चौथे नंबर पर है। अगर कांग्रेस गठबंधन की सरकार सत्ता में आती है तो हर घर में एक व्यक्ति को रोजगार दिया जाएगा। किसानों की बात करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार आने पर चावल के लिए 2,500 रुपये प्रति क्विंटल का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय किया जाएगा। मनरेगा में वृद्धि की जाएगी, जो भी काम करना चाहेगा, उसे काम मिलेगा। प्रत्येक परिवार जिनके पास जमीन या घर नहीं है, उन्हें जमीन का एक टुकड़ा दिया जाएगा, ताकि उनके पास रहने लायक घर हो।

कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने दावा किया कि कांग्रेस अपने सहयोगियों झारखंड मुक्ति मोर्चा और आरजेडी के साथ मिलकर राज्य में एक काबिल सरकार देगी। उन्होंने कहा कि झारखंड का यह चुनाव एक तरफ बीजेपी और दूसरी तरफ धर्मनिरपेक्ष प्रगतिशील दलों के बीच चल रहे संघर्ष का एक महत्वपूर्ण पड़ाव सिद्ध होगा। उन्होंने लोगों को भावनात्मक मुद्दों पर बहकाए जाने से आगाह करते हुए कहा कि झारखंड का चुनाव एक राज्य सरकार को चुनने के लिए है, जिसमें 81 सदस्यों को चुना जाना है, जो राज्य को 5 साल तक चलाएंगे। झारखंड के लोगों से अपील है कि वे स्पष्ट रहें कि ये 81 लोग कौन होंगे? उन्होंने कहा कि केरल या असम या मेघालय में क्या हो रहा है, इस चुनाव में इसकी कोई प्रासंगिकता नहीं है।

Published: 6 Dec 2019, 10:03 PM
लोकप्रिय