बिहार कांग्रेस को नई धार देने में जुटे भक्त चरण दास, 13 दिन बिहार में रहकर कई जिलों का करेंगे दौरा

भक्त चरण दास खुद कांग्रेस कार्यकर्ताओं के पास पहुंचकर कार्यशील नेताओं की जानकारी लेना चाहते हैं, जिससे ऐसे नेताओं को संगठन में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी जा सके। इसके लिए वह जिलों का दौरा कर कांग्रेस नेताओं-कार्यकर्ताओं से मिलेंगे और उनकी समस्याओं को जानेंगे।

फाइल फोटोः IANS
फाइल फोटोः IANS
user

मनोज पाठक, IANS

बिहार विधानसभा चुनाव में विपक्षी दलों के महागठबंधन में शामिल कांग्रेस को भले ही आशातीत सफलता नहीं मिली हो, लेकिन कांग्रेस पार्टी को मजबूत करने में जुटी है। इसी कड़ी में नव-नियुक्त प्रभारी भक्त चरण दास पार्टी को नई धार देने में जुटे गए हैं। इसी कवायद में पूर्व केंद्रीय मंत्री दास एकबार फिर बिहार पहुंचने वाले हैं और इस बार वह 13 दिन बिहार में रहकर 14 जिलों का दौरा करेंगे।

बिहार कांग्रेस के सूत्रों का कहना है कि इस यात्रा के दौरान दास संगठन की समस्याओं को जानने की कोशिश करेंगे और कार्यकर्ताओं के गिरे मनोबल को उठाने की कोशिश करेंगे। माना जा रहा है कि दास बिहार में कांग्रेस को अपने पैरों पर खड़ा करना चाहते हैं, जिसके तहत वे संगठन में बदलाव को लेकर जिला के नेताओं से मिलकर रूपरेखा तय करेंगे।

कहा जा रहा है कि दास खुद कार्यकर्ताओं के पास पहुंचकर कार्यशील नेताओं की जानकारी लेना चाहते हैं, जिससे ऐसे नेताओं को संगठन में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी जा सके। वह भी कहते हैं कि जिलों का दौरा कर वह कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं से मिलेंगे तथा उनकी समस्याओं को जानकर आगे की रणनीति बनाएंगे।

बिहार प्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के अध्यक्ष एच के वर्मा ने बताया कि दास 25 जनवरी को पटना पहुंचेंगे और 26 जनवरी को पार्टी के प्रदेश कार्यालय सदाकत आश्रम में गणतंत्र दिवस के अवसर पर होने वाले झंडोत्तोलन समारोह में शामिल होंगे। इसी दिन वे सदाकत आश्रम से 'किसान तिरंगा यात्रा' को झंडी दिखाकर रवाना करेंगे।

इसके बाद भक्त चरण दास 27 जनवरी को वैशाली जाएंगे। उसके बाद वे मुजफ्फरपुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं से संवाद कर मोतिहारी पहुंचेंगे और वहीं रात्रि विश्राम करेंगे। 28 जनवरी को वह मोतिहारी में पार्टी के नेताओं से मुलाकात के बाद बेतिया के लिए रवाना होंगे। 29 जनवरी को दास बृन्दावन स्थित गांधी स्मृति स्थल जाएंगे और स्वतंत्रता सेनानियों से मिलेंगे। 30 जनवरी को दास भितीहरवा आश्रम जाकर गांधीजी की मूर्ति पर माल्यार्पण करेंगे। शाम को वे गोपालगंज जाएंगे जहां रात्रि विश्राम करेंगे।

इसके बाद वह 31 जनवरी को गोपालगंज और सीवान जिला के पार्टी कार्यकर्ताओं से संवाद स्थापित करेंगे। एक फरवरी को वे सारण और भोजपुर जिला और दो फरवरी को बक्सर एवं कैमूर जिले में संवाद करेंगे। 3 फरवरी को दास रोहतास और औरंगाबाद जिलों का दौरा करेंगे। 4 फरवरी जहानाबाद और अरवल और फिर 5 फरवरी को गया में पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलकर पटना पहुंचेंगे। 6 फरवरी को वे दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next