हैदराबाद निगम चुनाव को बीजेपी ने बनाया ‘राष्ट्रीय चुनाव’, शाह, नड्डा, योगी समेत पूरी ताकत झोंकने का फैसला

बीजेपी के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने कहा कि बिहार में एनडीए को चुनाव जिताने में अहम भूमिका निभाने वाले भूपेंद्र यादव को ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव का प्रभारी बनाकर बीजेपी ने पहले ही अपने इरादे साफ कर दिए थे, कि वह इस चुनाव को बहुत गंभीरता से ले रही है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

आसिफ एस खान

तेलंगाना के ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव के लिए बीजेपी ने धुआंधार चुनाव प्रचार अभियान शुरू कर दिया है। बीजेपी के लगभग सभी बड़े दिग्गज इस चुनाव में उतरने जा रहे हैं। राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा शुक्रवार से इस आक्रामक कैंपेनिंग की शुरूआत करने जा रहे हैं। वह हैदराबाद में रोड शो करेंगे और फिर बुद्धिजीवियों से संवाद करेंगे।

राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के दौरे के अगले दिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हैदराबाद पहुंचेंगे। योगी आदित्यनाथ से भी हैदराबाद में रोड शो कराने की तैयारी है। योगी अपने आक्रामक तेवर और तीखे बयानों के लिए जाने जाते हैं। उनके बयानों से हैदराबाद नगर निगम चुनाव में बीजेपी के लिए वोटों का ध्रुवीकरण हो सकता है।

सूत्रों का कहना है कि दो बड़े नेताओं का दौरा निपटने के बाद 29 नवंबर को गृहमंत्री अमित शाह भी नगर निगम चुनाव के मैदान में उतरेंगे। पार्टी का मानना है कि गृहमंत्री अमित शाह का दौरा कार्यकर्ताओं में जोश भरेगा। इससे पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर और स्मृति ईरानी हैदराबाद में पहुंचकर बीजेपी के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश कर चुके हैं। जावडेकर ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की सरकार के खिलाफ कई आरोप लगाए थे। ईरानी भी राज्य सरकार पर हमलावर रही थीं।

बीजेपी के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने इस बारे में कहा, "बिहार में एनडीए को चुनाव जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले राष्ट्रीय महासचिव भूपेंद्र यादव को ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव का प्रभारी बनाकर बीजेपी ने पहले ही अपने इरादे साफ कर दिए थे, कि वह इस चुनाव को बहुत गंभीरता से ले रही है।"

बता दें कि ग्रेटर हैदराबाद म्युनिसिपल कार्पोरेशन की कुल 150 निकाय सीटों के लिए एक दिसंबर को मतदान होगा। पिछली बार हुए चुनाव में 99 सीटें जीतकर राज्य की सत्ताधारी तेलंगाना राष्ट्रीय समिति (टीआरएस) ने मेयर पद पर कब्जा जमाया था। तब बीजेपी को सिर्फ चार और ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम को 44 सीटें मिलीं थीं। बीजेपी इस बार ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव जीतने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia