बिहार: नीतीश कैबिनेट विस्तार पर BJP में बगावत! विधायक बोले- दागियों को बनाया गया मंत्री, अपर कास्ट को किया गया नजरअंदाज

एक बीजेपी विधायक ने तो यहां तक कह दिया कि मंत्रिमंडल में साफ सुथरी छवि वाले नेताओं को पीछे करके दागियों को मंत्री बनाया गया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले एनडीए सरकार के मंत्रिमंडल का काफी जद्दोजहद के बाद विस्तार हुआ। राज्यपाल फागू चौहान ने 17 मंत्रियों को शपथ दिलाई है, जिनमें बीजेपी कोटे से 9 विधायक तो जेडीयू कोटे से 8 मंत्री बनाए गए हैं। कैबिनेट विस्तार के कुछ देर बाद ही नेताओं की नाराजगी भी सामने आने लगी। एक बीजेपी विधायक ने तो यहां तक कह दिया कि मंत्रिमंडल में साफ सुथरी छवि वाले नेताओं को पीछे करके दागियों को मंत्री बनाया गया है। बीजेपी विधायक ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू ने हिंदी न्यूज चैनल NDTV से बात करते हुए कहा कि इस बार के मंत्रिमंडल में साफ सुथरी छवि वाले नेताओं को पीछे करके दागियों को मंत्री बनाया गया है। उन्होंने चेताया है कि इस तरह के विस्तार से पार्टी की छवि को नुकसान पहुंचेगा।

एनडीटीवी के मुताबिक बीजेपी विधायक ज्ञानू का कहना है कि कैबिनेट विस्तार में जातीय संतुलन, क्षेत्रीय संतुलन और अनुभव संतुलन पर ध्यान नहीं दिया गया है। उन्होंने कहा कि कहीं-कहीं से तीन-तीन मंत्री बनाए गए और कहीं से एक भी मंत्री नहीं बनाया गया। बीजेपी विधायक ने आरोप लगाया कि साफ सुथरी छवि वाले नेताओं को दरकिनार करके दागियों को मंत्री बनाया गया है।

बीजेपी विधायक ने अपर कास्ट को उप मुख्यमंत्री नहीं बनाए जाने को लेकर भी नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि लगता ही नहीं है कि कोई भारी-भरकम चेहरा मंत्रिमंडल में है। सबसे ज्यादा अपर कास्ट के लोग जीतकर आए हैं। लगभग 50 प्रतिशत उच्च जाति के लोग बीजेपी से जीतकर आए हैं, उन्हें उप मुख्यमंत्री नहीं बनाया गया जबकि दूसरों को बनाया गया।

बता दें कि बिहार की नीतीश सरकार का मंगलवार को मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ। पिछले साल हुए चुनाव के बाद लंबे वक्त से ही कैबिनेट विस्तार का इंतजार था, जो अब जाकर खत्म हुआ है। आज 17 मंत्रियों ने शपथ ली है, इसमें भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नौ और उसकी सहयोगी पार्टी जनता दल (युनाइटेड) के आठ विधायकों को मंत्री बनाया गया है। पिछले साल नवंबर में बिहार में फिर से मुख्यमंत्री पद संभालने वाले नीतीश कुमार मंत्रिमंडल का यह पहला विस्तार है। मंत्रिमंडल को लेकर बीजेपी और जेडीयू में बहुत दिनों तक पेंच फंसा रहा, अंत में सोमवार की शाम दोनों दलों में सहमति बन गई।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 09 Feb 2021, 4:15 PM
लोकप्रिय