त्रिपुरा में बीजेपी शासन का होगा अंत, उपचुनाव से होगी इसकी शुरुआत : अभिषेक बनर्जी

टीएमसी नेता अभिषेक बनर्जी ने अगरतला में मंगलवार को कहा कि त्रिपुरा की चार विधानसभा सीटों पर 23 जून को होने वाले उपचुनाव से राज्य में बीजेपी के शासन का अंत हो जाएगा, जिसका समापन अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों में पार्टी की हार के साथ होगा।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने अगरतला में मंगलवार को कहा कि त्रिपुरा की चार विधानसभा सीटों पर 23 जून को होने वाले उपचुनाव से राज्य में बीजेपी के शासन का अंत हो जाएगा, जिसका समापन अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों में पार्टी की हार के साथ होगा। एक रोड शो में भाग लेने के बाद अभिषेक बनर्जी ने अगरतला में कहा, "आपके (बीजेपी) के पास प्रवर्तन निदेशालय, सीबीआई, आयकर है, हमारे पास लोगों का समर्थन है। सीबीआई ने मेरी पत्नी (रुजिरा नरूला) से पूछताछ के लिए इस दिन (मंगलवार) को चुना, क्योंकि वे नहीं चाहते थे कि मैं यहां (त्रिपुरा) आऊं।"

"लेकिन कोई ताकत हमें रोक नहीं सकती। हम 'दुआरे गुंडा' (दरवाजे पर गुंडा) नहीं चाहते हैं, हम 'दुआरे सरकार' (दरवाजे पर सरकार) चाहते हैं। त्रिपुरा को दिल्ली से नहीं, बल्कि त्रिपुरा के लोगों द्वारा नियंत्रित किया जाएगा।"


मुख्यमंत्री पद से बिप्लब कुमार देब के इस्तीफे का जिक्र करते हुए तृणमूल नेता ने कहा कि चेहरा बदलने से 2023 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी की हार को टाला नहीं जा सकता। उन्होंने कहा कि माणिक साहा के सत्ता संभालने के बाद भी विपक्ष के समर्थकों पर हमले और अत्याचार जारी हैं।

बनर्जी ने कहा, "पिछले साल अगस्त में त्रिपुरा में टीएमसी द्वारा राजनीतिक गतिविधि शुरू किए जाने के बाद बीजेपी भयभीत हो गई। हम बंगाल की तरह बीजेपी को हराने के लिए त्रिपुरा आए हैं। तृणमूल कांग्रेस की भावना पर अंकुश लगाने वाली कोई ताकत नहीं है।"

टीएमसी के लोकसभा सदस्य ने कहा, "जब भी आप मुझे बुलाएंगे, मैं यहां (त्रिपुरा) एक घंटे के भीतर आ जाऊंगा। त्रिपुरा में ही नहीं, टीएमसी असम और मेघालय में भी अपना राजनीतिक आधार बढ़ाएगी।"


बनर्जी ने यह भी कहा : "अगर बीजेपी वायरस है, तो तृणमूल कांग्रेस टीका है। तृणमूल एक उच्च गुणवत्ता वाली डीवीडी है, बीजेपी एक भंग (टूटी हुई) ऑडियो कैसेट है। अगर वे आपको वोट देने के लिए पैसे देते हैं, तो पैसे लें और वोट दें जोड़ा फूल (टीएमसी का चुनाव चिन्ह) के लिए।"

टीएमसी ने उपचुनाव में सभी चार विधानसभा सीटों - टाउन बोरदोवाली, अगरतला, जुबराजनगर और सूरमा (एससी) पर उम्मीदवार उतारे हैं। 23 जून को होने वाले उपचुनाव में बीजेपी, टीएमसी, वाम दलों और कांग्रेस के बीच बहुकोणीय मुकाबला है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia