राजनीति

लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की दूसरी लिस्ट जारी, राज बब्बर, नाना पटोले, सावित्री फुले सहित 21 नामों का ऐलान

लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट जारी की है। पार्टी ने मुरादाबाद से राज बब्बर, बहराईच से सावित्री फुले, नागपुर से नाना पटोले और मुंबई नॉर्थ-सेंट्रल से प्रिया दत्त को मैदान में उतारा है। सुल्तानपुर सीट से संजय सिंह को टिकट मिला है।

फोटोः सोशल मीडिया

आसिफ एस खान

आगामी लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने 21 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी कर दी है। लिस्ट में उत्तर प्रदेश की 16 नाम और महाराष्ट्र की 5 सीटों से पार्टी उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया गया है। पार्टी ने उत्तर प्रदेश की मुरादाबाद सीट से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर और पूर्व गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे को महाराष्ट्र के सोलापुर से मैदान में उतारा है। वहीं हाल ही में बीजेपी से कांग्रेस में शामिल हुईं सावित्री फुले को बहराइच से टिकट मिला है।

लिस्ट में बड़े नामों की बात करें तो उत्तर प्रदेश की हाई प्रोफाइल सीटों में से एक सुल्तानपुर सीट से संजय सिंह को टिकट दिया गया है। जबकि पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल को कानपुर सीट से उतारा गया है। वहीं महाराष्ट्र में प्रिया दत्त को मुंबई-नॉर्थ सेंट्रल से और मिलिंद देवड़ा को मुंबई दक्षिण से मैदान में उतारा गया है। वहीं अखिल भारतीय किसान कांग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले को नागपुर से टिकट मिला है। वह इस सीट से बीजेपी के नीतिन गडकरी को चुनौती देंगे।

पूरी लिस्ट की बात करें तो उत्त प्रदेश की नगीना (सुरक्षित) से ओमवती देवी जाटव, खेरी से जफर अली नकवी सीतापुर से कैसर जहां, मशरख (सुरक्षित) से मंजरी राही, मोहनलालगंज (सुरक्षित) से रामाशंकर भार्गव, प्रतापगढ़ से श्रीमति रत्ना सिंह, फतेहपुर से राकेश सचान, संत कबीर नगर से परवेज खान, बांसगांव से कुश सौरभ, लालगंज (सुरक्षित) पंकज मोहन सोनकर, मिर्जापुर से ललितेशपति त्रिपाठी और रॉबर्ट्सगंज से भगवती प्रसाद चौधरी को टिकट दिया गया है। वहीं महाराष्ट्र की गढ़चिरौली चिमुर सीट से डॉ नामदेव दुल्लू जी उसेंदू को मैदान में उतारा गया है।

इससे पहले कांग्रेस ने पहली सूची में 15 उम्मीदवारों के नामों का ऐलान किया था, जिसमें यूपी की 11 और गुजरात की 4 सीटों के उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया गया था। पहली लिस्ट में ही राहुल गांधी और सोनिया गांधी का नाम शामिल था, जो अपनी परंपरागत सीटों से ही चुनाव लड़ेंगे।

लोकप्रिय