अर्थव्यवस्था में कुछ भी सही नहीं, सत्ता के नशे में है बीजेपी, होश उड़ाने वाली है सच्चाई

कांग्रेस ने शनिवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर निशाना साधते हुए कहा कि देश की सच्चाई को जाने बिना सत्ताधारी पार्टी लोगों का अपमान कर रही है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “बीजेपी के मंत्रियों का दिमाग खराब हो गया है और वे लोगों का अपमान कर रहे हैं।”

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी ने अपने एक बयान में विपक्ष के आर्थिक मंदी के आरोप को खारिज किया है, जिसके जवाब में कांग्रेस ने शनिवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर निशाना साधते हुए कहा कि देश की सच्चाई को जाने बिना सत्ताधारी पार्टी लोगों का अपमान कर रही है। अंगड़ी ने एक दिन पहले अर्थव्यवस्था की स्थिति पर विपक्ष की आलोचना को खारिज करते हुए कहा था, "हवाईअड्डे और ट्रेनें भरी हुई हैं। लोग शादी कर रहे हैं, इससे पता चलता है कि देश की अर्थव्यवस्था ठीक चल रही है।"

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मीडिया से बात करते हुए कहा, "बीजेपी के मंत्रियों का दिमाग खराब हो गया है और वे लोगों का अपमान कर रहे हैं।"


कांग्रेस नेता ने कहा, "एक तरफ रोटी और अन्य आवश्यक वस्तुओं की मांग गिर गई है और लोगों के पास खाने के लिए पैसे नहीं हैं। वहीं दूसरी तरफ बीजेपी के अहंकारी मंत्री यह कहकर लोगों का अपमान कर रहे हैं कि विवाह हो रहे हैं। क्या वे शादियां रोकना चाहते हैं?"

बीजेपी पर निशाना साधते हुए सुरजेवाला ने कहा, "क्या यह बीजेपी का अहंकार बोल रहा है?... या वह लोगों के दुखों और जमीनी स्तर पर वास्तविकता को देखने में असमर्थ है।"


सुरजेवाला ने कहा कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था में नौ प्रतिशत की गिरावट आई है और शहरी क्षेत्रों में भी अनाज और दालों की मांग में 15 प्रतिशत और खाद्य तेल की मांग में 10 प्रतिशत की गिरावट आई है। उन्होंने कहा कि आयात और निर्यात के नवीनतम आंकड़ों में भी गिरावट आई है। सुरजेवाला ने आगे कहा, "बीजेपी को वास्तविकता का आइना देखना चाहिए और सच को स्वीकार करना चाहिए।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 16 Nov 2019, 7:30 PM
;