कोरोना के कारण कांग्रेस ने उठाया बड़ा कदम, अब उत्तराखंड में भी रद्द की चुनावी रैलियां, पंजाब पर कर रही है विचार

उत्तरप्रदेश के बाद उत्तराखंड में भी कांग्रेस ने 15 दिनों के लिए सभी बड़ी चुनावी रैलियां स्थगित कर दी है। फिलहाल कांग्रेस पंजाब में चुनावी रैलियों पर विचार कर रही है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

उत्तरप्रदेश के बाद उत्तराखंड में भी कांग्रेस ने 15 दिनों के लिए सभी बड़ी चुनावी रैलियां स्थगित कर दी है। फिलहाल कांग्रेस पंजाब में चुनावी रैलियों पर विचार कर रही है। उत्तराखंड में कांग्रेस पार्टी ने राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी का चुनावी दौरा फिलहाल के लिए रद्द कर दिया है। दरअसल पार्टी की ओर से प्रियंका गांधी 9 जनवरी को गढ़वाल और कुमाऊँ मंडल में एक-एक जनसभा को संबोधित करने का कार्यक्रम तय किया गया था, लेकिन पार्टी ने कोरोना महामारी को देखते हुए अगले 15 दिनों तक राज्य में सभी बड़ी रैलियों को स्थगित करने का फैसला किया है। उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है।

उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल के अनुसार कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार को देखते हुए श्रीनगर (गढ़वाल) और अल्मोड़ा में होने वाली जनसभाएं स्थगित कर दी गई हैं। वहीं इस सम्बंध में कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने अगले 15 दिन के लिए मेगा रैली पर फिलहाल रोक लगा दी है। उत्तरप्रदेश के बाद उत्तराखंड में भी अगले 15 दिन तक कांग्रेस पार्टी कोई बड़ा आयोजन नहीं करेंगी। जीवन कीमती है, हमारे लिए जीवन प्राथमिकता है।



अन्य चुनावी राज्यों को लेकर उन्होंने कहा कि प्रभारियों और प्रदेश अध्यक्षों से इस संबंध में रिपोर्ट मांगी गई है। जैसे राज्यों के प्रभारी इस सम्बंध में अपनी रिपोर्ट देंगे पार्टी निर्णय करेगी।

हालांकि अब तक कांग्रेस के बड़े नेताओं में सिर्फ पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ही हैं, जिनकी रैली उत्तराखंड में हो सकी है। 16 दिसंबर को देहरादून के परेड ग्राउंड ने राहुल गांधी ने जनसभा को सम्बोधित किया था। जिसके बाद प्रियंका गांधी की 9 जनवरी की रैली को 30 दिसंबर को हल्द्वानी में हुई बीजेपी की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली का जवाब माना जा रहा था।

इससे पहले बुधवार को उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की ओर से चलाए जा रहे मैराथन 'लड़की हूं, लड़ सकती हूं' को भी फिलहाल स्थगित कर दिया गया था। उत्तर प्रदेश कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए मैराथन रोकने का फैसला लिया है। कांग्रेस पार्टी की मैराथन लखनऊ, बरेली, कानपुर और नोएडा समेत कई जिलों में प्रस्तावित थी। 5 जनवरी को आजमगढ़ में, 6 जनवरी को बनारस में, 7 जनवरी को कानपुर, 8 जनवरी को प्रयागराज व नोएडा में मैराथन का आयोजन किया जाना था और उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों में कांग्रेस की 'लड़की हूं, लड़ सकती हूं' मैराथन की तैयारियां की जा रही थी।


वहीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की भी नोएडा में होने वाली चुनावी रैली को कोरोना केस बढ़ने के चलते रद्द कर दिया गया है। इन्हीं कारणों के चलते समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव की विजय रथ यात्रा भी रद्द की गई, जो कि 7, 8 और 9 जनवरी को उत्तर प्रदेश में होने वाली थी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia