राहुल गांधी के इस्तीफे से कांग्रेस कार्यकर्ता निराश, आवास के बाहर प्रदर्शन कर किया फैसला वापस लेने की मांग

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के पद छोड़ने के फैसले से कार्यकर्ता निराश हैं और लगातार उनसे फैसला वापस लेने की मांग कर रहे हैं। पूर्व सीएम शीला दीक्षित के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी के आवास के बाहर प्रदर्शन कर उनसे फैसला वापस लेने की मांग की।

फोटो: नवजीवन
फोटो: नवजीवन

नवजीवन डेस्क

लोकसभा चुनावों में पार्टी के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद हार की जिम्मेदारी लेते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के पद छोड़ने की पेशकश से देश भर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं में भारी निराशा है। अलग-अलग प्रदेशों के कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी से अपना इस्तीफा वापस लेने की मांग की है। कांग्रेस कार्यकर्ता लगातार प्रदर्शन कर राहुल गांधी से अपने फैसले पर फिर से विचार करने की अपील कर रहे हैं।

बुधवार को दिल्ली कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी के आवास के बाहर एकत्र होकर उनसे पार्टी के शीर्ष पद से हटने के प्रस्ताव को वापस लेने की अपील की। दिल्ली कांग्रेस प्रमुख शीला दीक्षित के नेतृत्व में सैकड़ों पार्टी कार्यकर्ता तुगलक लेन स्थित राहुल गांधी के आवास के बाहर एकत्र हुए और 'राहुल जी इस्तीफा वापस लो' के नारे लगाकर उनसे फैसला वापस लेने की अपील की। प्रदर्शन में दिल्ली की तीन बार मुख्यमंत्री रहीं शीला दीक्षित, दिल्ली के पूर्व मंत्री हारून युसूफ और बॉक्सर विजेंदर सिंह समेत कई बड़े नेता शामिल हुए।

फोटो: नवजीवन
फोटो: नवजीवन

विजेंदर सिंह लोकसभा चुनाव में दक्षिण दिल्ली लोकसभा सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी थे। प्रदर्शन के दौरान विजेंदर सिंह ने कहा, “हमारा राहुल जी पर पूरा विश्वास है और हम चाहते हैं कि वह पार्टी अध्यक्ष के रूप में आगे भी काम करें।”

वहीं, राजस्थान प्रदेश कांग्रेस समिति की कार्यकारिणी की बैठक में राहुल गांधी के त्यागपत्र को स्वीकार नहीं करने संबंधी एक प्रस्ताव पारित किया गया। बैठक में 25 मई को नई दिल्ली में कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में पारित प्रस्ताव का समर्थन किया गया।

फोटो: नवजीवन
फोटो: नवजीवन

अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के महासचिव और राजस्थान के प्रभारी अविनाश पांडे ने बैठक में पारित प्रस्ताव को पढ़ते हुए कहा कि प्रदेश कार्यकारिणी की यह बैठक प्रदेश के समस्त कांग्रेसजनों की भावनाओं के अनुरूप सर्वसम्मति से केन्द्रीय कार्यकारिणी में पारित प्रस्ताव का अनुमोदन करती है और कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के प्रति पूर्ण विश्वास व्यक्त करते हुए उनसे (राहुल गांधी से) अनुरोध करती है कि वह हमें अपना प्रभावी नेतृत्व प्रदान करते रहें।

फोटो: नवजीवन
फोटो: नवजीवन

उन्होंने कहा कि प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी उन समस्त चुनौतियों, विफलताओं और कमियों को स्वीकार करती है जिनकी वजह से ऐसा जनादेश आया। उन्होंने कहा कि हम सभी प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य हर स्तर पर सम्पूर्ण आत्मचिंतन के साथ-साथ कांग्रेस अध्यक्ष को अधिकृत करते हैं कि वे पार्टी के संगठनात्मक ढांचे में आमूलचूल परिवर्तन कर विस्तृत पुनर्संरचना करें और इसके लिए योजना जल्द से जल्द लागू की जाए।

फोटो: नवजीवन
फोटो: नवजीवन

कांग्रेस नेता ने कहा कि “पार्टी ने चुनाव हारा है, लेकिन हमारा अदम्य साहस हमारे संघर्ष की भावना और हमारी सिद्धांतों के प्रति प्रतिबद्धता पहले से ज्यादा मजबूत है। कांग्रेस पार्टी नफरत और विभाजन की ताकतों से लोहा लेने के लिए सदैव आपके नेतृत्व में कटिबद्ध है।

सैयद खुर्रम रजा के इनपुट क साथ

लोकप्रिय