झारखंड में सीएम पद पर बने रहेंगे हेमंत, सत्तारूढ़ गठबंधन के विधायकों की बैठक में लिया गया फैसला

जेएमएम विधायक सरफराज अहमद के विधानसभा से इस्तीफा देने और सीएम हेमंत सोरेन पर ईडी की संभावित कार्रवाई के बीच सरकार में नेतृत्व परिवर्तन की चर्चा पिछले तीन दिनों से जारी है। यह भी चर्चा थी कि हेमंत की जगह उनकी पत्नी कल्पना सोरेन सीएम बनाई जा सकती हैं।

झारखंड में सीएम पद पर बने रहेंगे हेमंत, गठबंधन विधायकों की बैठक में फैसला
झारखंड में सीएम पद पर बने रहेंगे हेमंत, गठबंधन विधायकों की बैठक में फैसला
user

नवजीवन डेस्क

झारखंड में ईडी कार्रवाई को लेकर जारी अटकलों के बीच सत्तारूढ़ गठबंधन के विधायकों की आज रांची में अहम बैठक हुई, जिसमें तय हुआ कि हेमंत सोरेन सीएम के पद पर बने रहेंगे। विधायकों ने उनके नेतृत्व के प्रति एकजुटता व्यक्त की और सभी ने एक स्वर में कहा कि ईडी जैसी एजेंसियों के जरिए सरकार को अस्थिर करने की साजिश का जमकर मुकाबला किया जाएगा।

विधायकों ने कहा कि वे सीएम हेमंत सोरेन के हर फैसले के साथ खड़े हैं। हेमंत सोरेन ने गठबंधन के विधायकों से कहा कि वे इस्तीफा नहीं देने जा रहे हैं। सरकार का चेहरा बदलने की जो बातें मीडिया में चल रही हैं, उस पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है। विपक्ष के लोग हवा में बातें उछाल रहे हैं। उनका मकसद सिर्फ यही है कि सरकार को कमजोर किया जाए, लेकिन हमलोग हर परिस्थिति का डटकर मुकाबला करेंगे।


हेमंत सोरेन ने विधायकों को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्रीय एजेंसियों की कार्रवाई हम लोगों के लिए कोई नई बात नहीं है। चुनावी वर्ष आया है तो इस तरह की गतिविधियां और भी बढ़ेंगी। हम कानूनी और राजनीतिक हर मोर्चे पर मुकाबला करेंगे और पांच साल का कार्यकाल पूरा कर एक बार फिर से सरकार बनाएंगे।

बुधवार शाम सीएम आवास में आयोजित बैठक में जेएमएम, कांग्रेस और आरजेडी के 43 विधायक उपस्थित रहे। बैठक समाप्त होने के बाद सीएम हाउस से बाहर निकले कांग्रेस विधायक प्रदीप यादव ने सरकार का नेता बदलने के बारे में पूछे जाने पर कहा कि हेमंत सोरेन सीएम हैं और वह सीएम रहेंगे, बैठक में 43 विधायक मौजूद रहे।

वहीं, मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने कहा हेमंत सोरेन हमारे सर्वमान्य नेता हैं। वही मुख्यमंत्री रहेंगे। पत्रकारों ने जब पूछा कि फिर यह विधायक दल की बैठक क्यों? इस पर उन्होंने कहा नये साल में हम सभी मिले हैं। गठबंधन में शामिल सभी दलों के विधायकों से मिले और मिठाइयां खाई है।जेएमएम विधायक मथुरा महतो ने कहा सरकार पर कोई संकट नहीं है। सीएम हेमंत सोरेन हैं और वही बरकरार रहेंगे, इस्तीफे की बात सही नहीं है। जैसा है वैसा चलता रहेगा।


गौरतलब है कि गांडेय के जेएमएम विधायक सरफराज अहमद द्वारा 31 दिसंबर को विधानसभा सदस्यता से इस्तीफा देने और सीएम हेमंत सोरेन पर ईडी की कार्रवाई की संभावना के बीच सरकार में नेतृत्व परिवर्तन की चर्चा पिछले तीन दिनों से जोर-शोर से चल रही है। इस बात की भी जोरदार चर्चा रही है कि सीएम हेमंत की जगह उनकी पत्नी कल्पना सोरेन सत्तारूढ़ गठबंधन की नई नेता बनाई जाएंगी। हालांकि, सत्तारूढ़ गठबंधन ने इस चर्चा को एक बार फिर खारिज किया है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;