जैसे ही फोन पर कहा- हम तेजस्वी यादव बोल रहे हैं, घिग्घी बंध गई पटना के डीएम की, देखिए वीडियो

जब पटना के डीएम से उनकी फोन पर बात हो रही थी तो वो शायद तेजस्वी यादव को पहचान नहीं पाए और उन्हें हड़काने लगे। लेकिन जब तेजस्वी ने अपना परिचय दिया तो डीएम साहब की घिग्घी बंध गई और वो सर-सर करने लगे।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

रवि प्रकाश

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव का एक वीडियो बहुत ही तेजी से वायरल हो रहा है। यह वीडियो बुधवार का है। इस वीडियो में तेजस्वी पटना के डीएम से बात करते दिखाई दे रहे हैं। दरअसल बिहार के टीईटी पास शिक्षक अभ्यर्थी नौकरी को लेकर पटना में धरना प्रर्दशन कर रहे हैं। पहले इनका प्रदर्शन गर्दनीबाग में चल रहा था, लेकिन मंगलवार को इन अभ्यर्थियों पर पटना प्रशासन ने लाठी चार्ज करवाया था और उन्हें गर्दनीबाग धरना स्थल से हटा दिया था। इसके बाद ये अभ्यर्थी पटना के इको पार्क में धरना-प्रदर्शन दे रहे थे। वहां तेजस्वी यादव अचानक पहुंच गए। सबसे पहले तेजस्वी यादव ने आंदलनकारियों की बातें सुनीं फिर उन्होंने वहीं से मुख्य सचिव, डीजीपी और पटना डीएम को फोन लगाया। जब पटना के डीएम से उनकी फोन पर बात हो रही थी तो वो शायद तेजस्वी यादव को पहचान नहीं पाए और उन्हें हड़काने लगे। लेकिन जब तेजस्वी ने अपना परिचय दिया तो डीएम साहब की घिग्घी बंध गई और वो सर-सर करने लगे।

दरअसल जब तेजस्वी यादव की पटना के डीएम से बात हो रही थी तब उन्होंने अपना फोन स्पीकर पर डाल रखा था। तेजस्वी ने उनसे टीईटी अभर्थियों के लिए धरने की मंजूरी को लेकर बात की। डीएम साहब पहले तेजस्वी को पहचान नहीं सके। तेजस्वी ने जब उनसे पूछा की कितने वक्त में ये काम हो जाएगा तो वो लिखित में धरना देने के लिए आवेदन मांगने लगे। डीएम साहब की आवाज में झुंझलाहट भी थी। डीएम साहब ने तेजस्वी से कहा कि आप हम से क्या हिसाब लीजिएगा। जिस पर तेजस्वी ने कहा कि हम तेजस्वी यादव बोल रहे हैं। इसके बाद डीएम साहब सर सर कहने लगे। क्योंकि तेजस्वी ने फोन को स्पीकर पर डाल रखा था। इसलिए अधिकारी और तेजस्वी की बातचीत सारे लोग सुन रहे थे, लेकिन जैसे ही तेजस्वी ने अपना परिचय दिया। डीएम साहब सर सर पर आ गए। इस पर तेजस्वी के आसपास बैठे अभ्यर्थियों हंसने लगे और जमकर तालियां बजाई।

तेजस्वी यादव के हस्तक्षेप के बाद अभ्यर्थियों को गर्दनीबाग में धरना-प्रदर्शन करने की इजाजत मिल गई। अभ्यर्थियों ने तेजस्वी यादव से उन्हें सुरक्षित धरनास्थल पर पहुंचाने की अपील की। जिसके बाद तेजस्वी यादव ने उनके साथ तीन किलोमीटर लंबे मार्च का भी नेतृत्व किया।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next