बीजेपी की नीतियों के साथ एडजस्ट नहीं हो रही जेडीयू,नए साथी की तलाश में हैं नीतीश? 

जेडीयू के नेता और सीएम नीतीश कुमार के बेहद करीबी माने जाने वाले अशोक चौधरी ने कहा है कि बीजेपी की पॉलिसी के साथ जेडीयू एडजस्ट नहीं करती है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के मोदी कैबिनेट में शामिल नहीं होने के फैसले पर तरह तरह की अटकलें लगाई जाने लगी है। वहीं बिहार में सियासत गर्म हो गई है। लोग इसे नीतीश कुमार की अगली चाल से जोड़ कर देख रहे हैं।

दरअसल बीजेपी ने मोदी मंत्रिमंडल में जेडीयू के लिए सिर्फ एक जगह छोड़ी थी। इसे बिहार का अपमान बताया जा रहा है। वहीं जेडीयू के नेता भी इससे नाराज बताए जा रहे हैं। उनके बायनों में भी नाराजगी झलक रही है। जेडीयू के नेता और सीएम नीतीश कुमार के बेहद करीबी माने जाने वाले अशोक चौधरी ने कहा है कि बीजेपी की पॉलिसी के साथ जेडीयू एडजस्ट नहीं करती है। जाहिर है उनके इस बयान के सियासी मायने भी निकाले जा रहे हैं।

जेडीयू नेता अशोक चौधरी ने कहा कि लोग कुछ देने के बाद साथ होते हैं, हम बिना कुछ लिए साथ हैं। सिर्फ मंत्री बनना ही जेडीयू का उद्देश्य नहीं है, बल्कि बिहार का विकास करना हमारी प्राथमिकता है।

बिहार में जेडीयू अपने आप को बीजेपी से बड़ा मानती है। जेडीयू के नेता इस बात को समय समय पर कहते भी रहे हैं। पार्टी के प्रधान महासचिव केसी त्यागी के हाल के बायनों को भी बीजेपी से बड़ा साबित करने की कोशिश माना जा रहा है।

मोदी सरकार में जेडीयू को शामिल नहीं होने से बिहार के दूसरे दल भी नाराजगी जता रहे हैं। आरजेडी के प्रवक्ता विजय प्रकाश ने कहा कि जेडीयू के शामिल नहीं होने से पूरे बिहार को अफसोस है। आरजेडी के साथ बिहार का विश्वास टूटा है। सबको लगा था कि इससे बिहार के विकास में तेजी आएगी, लेकिन अब इसका दुष्परिणाम सामने आएगा।

नीतीश कुमार ने भी साफ कह दिया कि उनकी उम्मीद थी कि संख्या बल के आधार पर बीजेपी सहयोगी दलों को मंत्रिपरिषद में जगह देगी मगर ऐसा नहीं हुआ। जिसके बाद मंत्रिमंडल में नहीं शामिल होने का फैसला किया गया। चुनाव बाद जेडीयू और बीजेपी में तल्खी बढ़ी है। अब पार्टी कई मुद्दों पर बीजेपी के खिलाफ बोल रही है। ऐसे में आने वाले दिनों में बिहार की राजनीति एक बार फिर नया करवट ले सकती है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 01 Jun 2019, 8:59 PM
;