अमित शाह ने पहले ही कर दी थी झारखंड चुनाव में BJP की हार की भविष्यवाणी, पार्टी नेताओं से कहा था- मुझे…

अमित शाह 28 नवंबर को चतरा में चुनावी सभा संबोधित करने पहुंचे थे, उनकी रैली में बहुत ही कम भीड़ पहुंची थी जिसे देखकर वो पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं पर बेहद नाराज हो गए थे। इतना ही नहीं अमित शाह ने मंच पर ही अपने पार्टी नेताओं की क्लास लगा दी थी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

झारखंड में भी बीजेपी सत्ता से बेदखल होने वाली है। झारखंड विधानसभा चुनाव की मतगणना के अब तक मिले रुझानों से तो यही लगता है कि मुख्यमंत्री के रूप में रघुबर दास के दिन गए और जेएमएम-कांग्रेस-आरजेडी गठबंधन झारखंड में सरकार बनाने जा रही है। ताजा स्थिति को देखते हुए हेमंत सोरेन का मुख्यमंत्री बनना तय लग रहा है। अभी तक के रुझानों में महागठबंधन बहुमत का आंकड़ा पार नजर आ रहा है, हालांकि इन आंकड़ों में अभी उलट-फेर हो सकते हैं। लेकिन इतनी भी उलट-फेर की संभावना नहीं है कि बीजेपी सत्ता में वापस लौट जाए।

एग्जिट पोल में भी बीजेपी की हार की भविष्यवाणी की गई थी। यहां तक की पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने 25 दिन पहले एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए राज्य में अपनी ही पार्टी की हार की भविष्यवाणी कर दी थी।


अदरअसल अमित शाह 28 नवंबर को चतरा में चुनावी सभा संबोधित करने पहुंचे थे, उनकी रैली में बहुत ही कम भीड़ पहुंची थी जिसे देखकर वो पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं पर बेहद नाराज हो गए थे। इतना ही नहीं अमित शाह ने मंच पर ही अपने पार्टी नेताओं की क्लास लगा दी थी। उन्होंने पूछा था कि क्या 15-20 हजार की भीड़ जमा कर चुनाव जीत जाओगे? शाह ने मंच से अपने भाषण में कहा कि मुझे बेवकूफ मत बनाओ, मैं भी बनिया हूं और इतना गणित जानता हूं कि इतनी सी भीड़ से कोई विधायक नहीं बन सकता।

बीजेपी अध्यक्ष ने भाषण के दौरान कहा था कि देखो भाई, ये 10-15 हजार लोगों की भीड़ से जीत जाएंगे क्या? जीत सकते हैं? नहीं-नहीं भाई, नहीं जीत सकते। मुझे भी गणित पता है। मैं भी बनिया हूं। मुझे बेवकूफ मत बनाओ आप। एक रास्ता बताऊं, करोगे क्या? मोदी जी को आशीर्वाद दोगे? फिर से रघुवर सरकार बनाओगे? रघुवर ने फोन दिया है न तो दिखाओ और वादा करो कि 25-25 लोगों को फोन करोगे। मामा को, मामी को, चाचा को, चाची को, फुआ को, फूफी को, दादा को दादी को, भाई को, भाभी को यानी कुल 25 लोगों को फोन करना है और उन्हें कहना है कि कमल पर बटन दबाओ।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;