झारखंड से राहुल गांधी का वादा- सरकार आने पर किसी को नहीं छूने देंगे गरीबों की जमीन, पोछेंगे किसानों के आंसू

राहुल गांधी ने कहा कि झारखंड में धन की कोई कमी नहीं है, फिर भी बीजेपी सरकार ने किसानों के कर्ज माफ नहीं किए। लेकिन कांग्रेस गठबंधन की सरकार आते ही झारखंड में भी छत्तीसगढ़ की तर्ज पर आदिवासियों की जमीन की रक्षा की जाएगी और किसानों के कर्ज माफ किये जाएंगे।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए हुए पहले चरण के मतदान के बाद सभी दलों ने दूसरे चरण के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। इसी के तहत सोमवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सिमडेगा में एक विशाल जनसभा को संबोधित किया। यहां उन्होंने जमकर राज्य और केंद्र की बीजेपी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बीजेपी की सरकार में केवल कुछ चुनिंदा उद्योगपतियों का ख्याल रखा जाता है, और किसानों-आदिवासियों का हक मारा जाता है। आदिवासियों के जमीन अधिग्रहण और किसानों के कर्ज का मुद्दा उठाते हुए राहुल गांधी ने कहा कि जहां भी कांग्रेस की सरकार आई, हमने किसानों का कर्ज माफ किया और आदिवासियों को उनकी जमीनों का हक दिलाया और यहां भी सरकार आने पर झारखंड को बदल देंगे।

राहुल गांधी ने सिमडेगा से कांग्रेस उम्मीदवार भूषण बाड़ा और कोलेबिरा से नमन विक्सल कोंगाड़ी के पक्ष में आयोजित जनसभा की शुरुआत बिरसा मुंडा, जयपाल सिंह मुंडा को याद करते हुए की। उन्होंने कहा कि पास में ही छत्तीसगढ़ है, जहां एक साल पहले चुनाव था। आदिवासी बहुल छत्तीसगढ़ में धन की कोई कमी नहीं थी, लेकिन उस धन का लाभ वहां के आदिवासियों और गरीबों-किसानों को नहीं मिल रहा था। बीजेपी की सरकार जो आज झारखंड में कर रही है, वही सबकुछ छत्तीसगढ में कर रही थी। लेकिन सरकार में आते ही एक साल के अंदर कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ का चेहरा बदल दिया।

राहुल गांधी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में बीजेपी की सरकार बिना कोई कारण बनाए हर जिले में आदिवासियों से उनकी जमीनें छीनकर उद्योगपतियों को दे देती थी। उन्होंने इसके लिए कानून बना रखा था, जिसे हमने सरकार में आते ही बदल दिया। हिंदुस्तान में पहली बार टाटा जैसी बड़ी कंपनी से जमीन वापस लेकर आदिवासियों को वापस लौटा दी गईं। जब टाटा कंपनी ने 5 साल में आदिवासियों से ली गई जमीन पर उद्योग नहीं लगाया तो कानून के अनुसार जमीन वापस आदिवासियों को दे दी गई।

कांग्रेस नेता ने कहा कि झारखंड में धन की कोई कमी नहीं है, फिर भी किसानों के कर्ज माफ नहीं हुए। लेकिन जहां भी कांग्रेस की सरकारें आईं, किसानों के कर्ज माफ कर दिये गये। उन्होंने कहा कि जैसे छत्तीसगढ़ में आदिवासियों और किसानों की जमीन की रक्षा की गई, किसानों के कर्ज माफ किए गए हैं, वैसे ही यहां कांग्रेस गठबंधन की सरकार बनने पर किसानों के कर्ज माफ किये जाएंगे और यहां के लोगों की जमीनों की रक्षा की जाएगी। उन्होंने कहा, “अगर हमारा गठबंधन झारखंड में सत्ता में आता है तो छत्तीसगढ़ की तरह किसानों का कर्ज माफ किया जाएगा और धान का न्यूनतम मूल्य 2,500 रुपये प्रति कुंटल होगा।”

केंद्र की मोदी सरकार पर बरसते हुए राहुल गांधी ने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी के रूप में आम लोगों से वसूले गए राजस्व को सिर्फ 15 उद्योगपतियों के बीच इस सरकार ने बांट दिया। उन्होंने कहा, "प्रधानमंत्री मोदी आम लोगों के दर्द को समझ नहीं सकते हैं। जब नोटबंदी हुई थी तब एक भी उद्योगपति कतारों में नहीं खड़ा था। आम लोग, गरीब और आदिवासी बैंकों की कतार में खड़े थे। फिर जीएसटी के नाम पर 'गब्बर सिंह टैक्स' को छोटे व्यापारियों से धन वसूलने के लिए लाया गया। और फिर नोटबंदी और जीएसटी से वसूला गया वो धन देश के 15 उद्योगपतियों के पास चला गया, जो मोदी के दोस्त हैं। क्योंकि मोदी जी ने उद्योगपतियों के 3.50 लाख करोड़ रुपये के कर्ज माफ कर दिए। केंद्र और राज्य की बीजेपी सरकार सिर्फ 15 लोगों की जेब भरने के लिए देश के लोगों का पैसा हड़प रही है। बीजेपी सरकार द्वारा किसी भी किसान का कर्ज माफ नहीं किया गया, लेकिन उद्योगपतियों का कर्ज माफ कर दिया गया है। "

झारखंड में महागठबंधन की सरकार बनाने का आह्वान करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस प्यार बांटती है लेकिन बीजेपी हिंसा को बढ़ावा देती है। उन्होंने कहा कि ये देश किसी एक विचारधारा का देश नहीं है। इसमें अलग-अलग विचारधाराएं हैं, अलग-अलग धर्म हैं, अलग जातियां हैं और अलग सोच के लोग हैं। कांग्रेस वो पार्टी है, जो सबको साथ लेकर चलती है, प्यार से देश को आगे ले जाती है। हम धर्म-जाति के नाम पर किसी पर हमला नहीं करते। हम हिंसा का प्रयोग नहीं करते हैं। हम प्यार से काम करते हैं और यही हिंदुस्तान की ताकत है। उन्होंने कहा, “ये देश तभी आगे जाएगा, जब हम सब मिलकर एक साथ आगे बढ़ेंगे। छत्तीसगढ़ का आपके सामने उदाहरण है- कर्जमाफी, सही एमएसपी, जमीन की हिफाजत, आदिवासी कानून और आप से वादा है कि जो कांग्रेस पार्टी ने छत्तीसगढ़ में किया, वही कांग्रेस की गठबंधन की सरकार झारखंड में करने जा रही है।”

Published: 2 Dec 2019, 10:30 PM
लोकप्रिय