कर्नाटक के BJP विधायक यतनाल ने फिर खोली पार्टी की पोल, विधानसभा में लगाए गंभीर आरोप

यतनाल सीधे तौर पर येदियुरप्पा और उनके बेटे बीजेपी विधायक बीवाई विजयेंद्र पर निशाना साध रहे हैं। यतनाल ने यह भी आरोप लगाया था कि विजयेंद्र ने बसवराज बोम्मई और पूर्व मंत्री वी. सोमन्ना सहित वरिष्ठ बीजेपी नेताओं को हराने के लिए चुनावों में फंड दिया था।

कर्नाटक के BJP विधायक यतनाल ने फिर खोली पार्टी की पोल, विधानसभा में लगाए गंभीर आरोप
कर्नाटक के BJP विधायक यतनाल ने फिर खोली पार्टी की पोल, विधानसभा में लगाए गंभीर आरोप
user

नवजीवन डेस्क

कर्नाटक के बीजेपी विधायक बसनगौड़ा पाटिल यतनाल ने मंगलवार को विधानसभा सत्र में बयान देकर पार्टी को एक बार फिर शर्मिंदा कर दिया। उन्होंने येदियुरप्पा पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि पिछली बीजेपी सरकार ने उनके निर्वाचन क्षेत्र का 105 करोड़ रुपये का अनुदान रोक दिया था।

बीजेपी विधायक बसनगौड़ा यतनाल ने कर्नाटक विधानसभा में कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार ने विजयपुरा निर्वाचन क्षेत्र के विकास के लिए फंड मंजूर किया था। दुर्भाग्य से जब बीजेपी सत्ता में आई तो इसे रोक दिया और रद्द कर दिया गया।


यतनाल ने कहा, ''लोग मुझे सलाह देते हैं कि ज्यादा बात मत करो। इस वजह से मेरे सीएम बनने की संभावनाएं खराब हो गई हैं। मैं किसी से नहीं डरता और सीधे संदेश देता हूं।'' यतनाल ने पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा की ओर इशारा करते हुए कहा, ''पूर्व मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई और पूर्व मंत्री भैरथी बसवराज ने धन जारी करके मदद की थी। जिन लोगों ने सत्ता में रहते हुए मदद नहीं की, वे अब सेवानिवृत्त हो गए हैं।

इस दौरान कांग्रेस विधायक राजू कागे ने हस्तक्षेप करते हुए कहा कि वह उनके साथ हैं। यतनाल ने कहा कि वह अपना बचाव करने के लिए काफी हैं। मैं एक हाथी हूं। मैं अपनी लड़ाई खुद लड़ूंगा। कांग्रेस विधायक अब्बैया प्रसाद ने उन पर तंज कसा कि क्या बीजेपी में कोई उनका समर्थन नहीं कर रहा है। यतनाल ने कहा, "आप मान लेते हैं कि कोई नहीं है। आप छह महीने में एक बार खड़े होते हैं और बात करते हैं।"


यतनाल सीधे तौर पर येदियुरप्पा और उनके बेटे बीजेपी विधायक बीवाई विजयेंद्र पर निशाना साध रहे हैं। उन्होंने मांग की थी कि नेता विपक्ष या प्रदेश अध्यक्ष का पद उन्हें या उत्तरी कर्नाटक के किसी नेता को दिया जाना चाहिए। यतनाल ने यह भी आरोप लगाया था कि विजयेंद्र ने बसवराज बोम्मई और पूर्व मंत्री वी. सोमन्ना सहित वरिष्ठ बीजेपी नेताओं को हराने के लिए चुनावों में फंड दिया था।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;