ममता ने बीजेपी के चक्रव्यूह को भेदने के लिए पवार से मांगी मदद, सभी विपक्षी दलों को कर सकते हैं एकजुट

एनसीपी नेता ने बताया कि शरद पवार पहले ही बनर्जी के साथ मुद्दों पर चर्चा कर चुके हैं और अब अन्य सभी विपक्षी दलों को एकजुट करने की कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा कि ममता और पवार अन्य राष्ट्रीय नेताओं के साथ बैठक करेंगे और अगर जरूरत पड़ी तो पवार बंगाल भी जाएंगे।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पश्चिम बंगाल में चल रहे राजनीतिक घटनाक्रम पर गंभीर चिंता व्यक्त करते हुए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने कहा है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को एनसीपी प्रमुख शरद पवार से बात की है और केंद्र सरकार द्वारा बंगाल की सरकार को अस्थिर करने के प्रयासों पर चर्चा की है। उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि बंगाल चुनाव से पहले केंद्र की तरफ से उन्हें निशाना बनाया जा रहा है।

शरद पवार की पार्टी एनसीपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्य मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि ममता बनर्जी ने शरद पवार को बताया कि कैसे बीजेपी बंगाल को अस्थिर करने की कोशिश कर रही है। केंद्र सरकार सरकारी अधिकारियों को अपनी मर्जी से वापस ले रही है और राज्य के अधिकारों का उल्लंघन कर रही है। बीजेपी जिस तरह से केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है वह सही नहीं है।"

उन्होंने कहा कि एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार पहले ही बनर्जी के साथ मुद्दों पर चर्चा कर चुके हैं और अन्य सभी राष्ट्रीय विपक्षी दलों को एकजुट करने की कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा, "ममता बनर्जी और शरद पवार अन्य राष्ट्रीय नेताओं के साथ भी बैठक करेंगे। अगर जरूरत पड़ी तो पवार बंगाल भी जाएंगे।"

बता दें कि बंगाल चुनाव से चार महीने पहले राज्य का घटनाक्रम अचानक तेजी से बदला है। बीजेपी लगातार ममता बनर्जी की सरकार और पार्टी पर हमलावर है। हाल ही में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हमले को लेकर केंद्र सरकार ने राज्य के तीन आईपीएस अधिकारियों को केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर बुला लिया था, जिसे ममता सरकार ने राज्य में दखल बताया है। ममता बीजेपी पर किसी भी तरह सत्ता में आने की कोशिश करने और उनकी सरकार और पार्टी को कमजोर करने का आरोप लगाया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia