मेघालय चुनाव : प्रचार समाप्त, सोमवार को 59 विधानसभा सीटों पर मतदान, एक सीट पर नहीं होगी वोटिंग

खारकोंगोर ने बताया कि, 27 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव में 36 महिलाओं समेत कुल 369 उम्मीदवार मैदान में हैं। 2018 के विधानसभा चुनाव में 32 महिलाओं सहित 329 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा था।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

मेघालय में 27 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए एक महीने से अधिक समय से चला आ रहा प्रचार अभियान शनिवार शाम चार बजे समाप्त हो गया। सोमवार को कड़ी सुरक्षा के बीच 12 जिलों की 60 विधानसभा सीटों में से 59 पर मतदान होगा।

यूनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी (यूडीपी) के उम्मीदवार एच. डोनकुपर रॉय लिंगदोह की बीमारी के कारण 20 फरवरी को मृत्यु हो जाने के बाद पूर्वी खासी हिल्स जिले के सोहियोंग विधानसभा क्षेत्र में मतदान नहीं होगा। मेघालय के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) एफ.आर. खारकोंगोर ने बताया कि शनिवार को 59 विधानसभा क्षेत्रों के 3,419 मतदान केंद्रों पर मतदान दलों की आवाजाही शुरू हो गई है।

सीईओ ने कहा कि, दक्षिण गारो हिल्स में, रोंगचेंग मतदान केंद्रों का पहला मतदान दल शनिवार सुबह जल्दी निकल गया क्योंकि उन्हें मतदान केंद्र तक पहुंचने के लिए 8 किलोमीटर की पैदल दूरी तय करनी थी। खारकोंगोर ने बताया कि, 27 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव में 36 महिलाओं समेत कुल 369 उम्मीदवार मैदान में हैं। 2018 के विधानसभा चुनाव में 32 महिलाओं सहित 329 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा था।

चुनाव अधिकारियों ने कहा कि बड़ी संख्या में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ), राज्य सशस्त्र और राज्य पुलिस कर्मियों ने सभी मतदान क्षेत्रों में मोर्चा संभाल लिया है।


बीजेपी और कांग्रेस ने 60 उम्मीदवारों को खड़ा किया है, जबकि मुख्य विपक्षी तृणमूल कांग्रेस ने 56 उम्मीदवारों को नामित किया है, मुख्यमंत्री कोनराड के संगमा के नेतृत्व वाली एनपीपी ने 57 उम्मीदवारों, यूनाइटेड डेमोकेट्रिक पार्टी (यूडीपी) ने 46, हिल स्टेट पीपुल्स डेमोकेट्रिक पार्टी (एचएसपीडीपी) ने 11, पीपुल्स डेमोकेट्रिक फ्रंट 9, गण सुरक्षा पार्टी एक, गारो नेशनल काउंसिल दो, जनता दल (यूनाइटेड) तीन, रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया दो, एआरपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (अठावले) छह, वॉयस ऑफ द पीपल पार्टी ने 18 उम्मीदवारों को खड़ा किया है। कुल मिलाकर 44 निर्दलीय उम्मीदवार भी चुनाव लड़ रहे हैं। एचएसपीडीपी मुख्य रूप से री-भोई, ईस्ट खासी हिल्स और वेस्ट खासी हिल जिलों की विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ रही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शिलांग और तुरा में दो चुनावी रैलियों को संबोधित किया, जबकि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने राज्य के विभिन्न हिस्सों में कई चुनावी रैलियों को संबोधित किया। कई केंद्रीय मंत्रियों, असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा और राज्य के बाहर के कई बीजेपी नेताओं और सांसदों ने पार्टी के लिए प्रचार किया।


पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने भी मेघालय में चुनावी रैलियों को संबोधित किया। कांग्रेस के नेता राहुल गांधी, जयराम रमेश, सचिन पायलट, सलमान खुर्शीद गौरव गोगोई, एआईसीसी की राष्ट्रीय प्रवक्ता अलका लांबा और कई अन्य पार्टी नेताओं, पूर्व केंद्रीय मंत्री और पार्टी के पूर्व सांसद ने पार्टी उम्मीदवारों के लिए प्रचार किया। वोटों की गिनती 2 मार्च को होगी।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;