BJP में दागियों की एंट्री के सवाल पर इंटरव्यू छोड़ भागे मिथुन, कहा- सॉरी सर…देखें वीडियो

अभिनेता से नेता बने मिथुन चक्रवर्ती ने रविवार को कोलकाता के ब्रिगेड ग्राउंड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली से ठीक पहले भारतीय जनता पार्टी (BJP) का दामन थाम लिया। पीएम जब मंच पर पहुंचे थे मिथुन ने उनका स्वागत भी किया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अभिनेता से नेता बने मिथुन चक्रवर्ती ने रविवार को कोलकाता के ब्रिगेड ग्राउंड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली से ठीक पहले भारतीय जनता पार्टी (BJP) का दामन थाम लिया। पीएम जब मंच पर पहुंचे थे मिथुन ने उनका स्वागत भी किया। लेकिन बीजेपी ज्वाइन करने के पहले ही दिन मिथुन दा को कुछ कड़े सवालों से दो चार होना पड़ा। वो उस समय बहुत ज्यादा असहज हो गए जब टीवी चैनल पर उनसे BJP में दागियों की एंट्री को लेकर सवाल पूछा गया। उनका कहना था, मैं उड़ता कौवा, आकर डाल पर बैठा हूं। आप सही-गलत पर मुझसे पूछ रहे हैं। उसके बाद मिथुन ने सॉरी सर कहकर इंटरव्यू खुद ही खत्म कर दिया और कैमरे के सामने से उठकर चलते बने।

बता दें कि फिल्म स्टार मिथुन चक्रवर्ती ने रविवार को कोलकाता में पीएम नरेंद्र मोदी की चुनावी रैली से पहले बीजेपी में शामिल हुए थे। इस दौरान बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने उनका पार्टी में स्वागत किया। अभिनेता ने कहा कि वह हमेशा से वंचितों के लिए काम करना चाहते थे। बीजेपी ने उन्हें अपने ध्येय को पूरा करने के लिए एक मंच दिया है। इसके लिए वह हमेशा उनके आभारी रहेंगे।

बीजेपी में एंट्री के साथ ही मिथुन ने एक जबरदस्त डायलॉग मारा था, उन्होंने मंच पर कहा, मुझे एक बेकार सांप समझने की गलती न करें। मैं एक कोबरा हूं। लोगों को एक बार में डंसकर मार भी सकता हूं। गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में चुनाव जीतने के लिए बीजेपी हर संभव कोशिश कर रही है, टीएमसी के कई नेता बीजेपी में शामिल हो गए हैं। टीएमसी छोड़ बीजेपी ज्वाइन करने वाले ज्यादातर नेताओं पर ऊपर कोई न कोई दाग है। दरअसल ABP न्यूज पर इसे लेकर ही उनसे सवाल पूछा गया था। जिसके बाद मिथुन कैमरे के सामने से उठकर चलते बने।

गौरतलब है कि एडीआर ने बंगाल के वर्तमान विधायकों का लेखा-जोखा जारी किया है, जिसके तहत बंगाल में 104 वर्तमान विधायक दागी हैं। इनमें 68 विधायक ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी के हैं। रिपोर्ट कहती है कि बंगाल के 282 विधायकों में से 37% यानी कुल 104 विधायक दागी हैं। हाल के दिनों में बीजेपी ने सबसे ज्यादा तोड़फोड़ टीएमसी में ही की है। सारदा घोटाले से जुड़े लोगों को भी पार्टी ने अपनी सदस्यता दी है। इनमें सबसे अहम नाम दिग्गज मुकुल रॉय का है। उनके ऊपर सारदा घोटाले में सीधा आरोप लगा था। पहले बीजेपी उन्हें लेकर निशाना साधती थी, लेकिन अब पार्टी के नेता फिलहाल चुप्पी साधे हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 08 Mar 2021, 2:05 PM
लोकप्रिय