मिजोरम चुनावः मतगणना की तारीख बदली, अब 4 दिसंबर को होगी वोटों की गिनती, प्रदर्शनों के बाद फैसला

इससे पहले मिजोरम की एनजीओ समन्वय समिति (एनजीओसीसी) ने राज्य विधानसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती की तारीख में बदलाव की मांग करते हुए शुक्रवार को राज्य भर में विरोध प्रदर्शन किया। युवाओं समेत सैकड़ों पुरुषों और महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया।

मिजोरम चुनावः मतगणना की तारीख बदली, अब 4 दिसंबर को होगी वोटों की गिनती
मिजोरम चुनावः मतगणना की तारीख बदली, अब 4 दिसंबर को होगी वोटों की गिनती
user

नवजीवन डेस्क

चुनाव आयोग ने मिजोरम विधानसभा चुनाव के मतगणना की तारीख बदल दी है। राज्य में वोटों की गिनती की तारीख 3 दिसंबर, 2023 से बदलकर 4 दिसंबर, 2023 (सोमवार) कर दी गई है। आयोग का कहना है कि राज्य के विभिन्न क्षेत्रों और वर्गों को लोगों की ओर से 3 दिसंबर को रविवार होने का हवाला देते हुए मतगणना की तारीख बदलने के लिए कई आवेदन प्राप्त हुए थे। आयोग ने पहले मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और तेलंगाना के साथ मिजोरम में वोटों की गिनती के लिए 3 दिसंबर की तारीख तय की थी। बाकी राज्यों में वोटों की गिनती तय कार्यक्रम के मुताबिक रविवार को ही होगी।

शुक्रवार शाम को चुनाव आयोग ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि उसे मिजोरम के विभिन्न क्षेत्रों से कई अभ्यावेदन प्राप्त हुए हैं, जिनमें राज्य में मतगणना की तारीख को 3 दिसंबर (रविवार) से बदलकर सप्ताह के किसी अन्य दिन करने का अनुरोध किया गया है, क्योंकि रविवार के दिन का मिजोरम के लोगों के लिए विशेष महत्व है। चुनाव आयोग ने कहा कि आयोग ने इन अभ्यावेदनों पर विचार के बाद मिजोरम विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना की तारीख को 3 दिसंबर से संशोधित कर 4 दिसंबर करने का फैसला किया है।


इससे पहले मिजोरम की एनजीओ समन्वय समिति (एनजीओसीसी) ने राज्य विधानसभा चुनावों के लिए वोटों की गिनती की तारीख में बदलाव की मांग करते हुए शुक्रवार को राज्य भर में विरोध प्रदर्शन किया। युवाओं समेत सैकड़ों पुरुषों और महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया। भीड़ को एनजीओसीसी के अध्यक्ष लालमछुआना, महासचिव मालसाव मलियाना और अन्य नेताओं ने संबोधित किया। एनजीओसीसी अध्यक्ष ने लोगों की मांग पर चुनाव आयोग की चुप्पी को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा, ''प्रदर्शन मिज़ो समुदाय और उनके धर्म की रक्षा के लिए आयोजित किए गए हैं।''

इसके अलावा उन्होंने राजनीतिक दलों से रविवार को मतगणना के दिन अपने दफ्तर बंद रखने का अनुरोध किया। उन्होंने पार्टियों और उम्मीदवारों के प्रतिनिधियों से विरोध स्वरूप 3 दिसंबर को मतगणना केंद्रों पर नहीं आने का आग्रह किया। मुख्य विरोध प्रदर्शन आइजोल में राजभवन के पास ट्रेजरी स्क्वायर पर आयोजित किया गया, जबकि अन्य जिला मुख्यालयों में भी इसी तरह का विरोध प्रदर्शन आयोजित किया गया।


मंगलवार को एनजीओसीसी के 5 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने नई दिल्ली में चुनाव आयोग के अधिकारियों से मुलाकात की थी और वोटों की गिनती की तारीख रविवार (3 दिसंबर) से किसी अन्य दिन के लिए पुनर्निर्धारित करने की मांग की थी। तारीख नहीं बदलने को लेकर विरोध प्रदर्शन किया गया। बता दें कि 40 सदस्यीय मिजोरम विधानसभा के लिए 7 नवंबर को मतदान हुआ था। 16 महिलाओं सहित 174 उम्मीदवारों के चुनावी भाग्य का फैसला करने के लिए 80 प्रतिशत से अधिक मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;