कांग्रेस की नई रणनीति दर्शा रहीं उदयपुर में लगी स्वतंत्रता सेनानियों की तस्वीरें, पोस्टरों के जरिए BJP को मुंहतोड़ जवाब

कांग्रेस का उदयपुर में आयोजित तीन दिवसीय 'चिंतन शिविर' पार्टी की आगामी रणनीति तय करने वाले सम्मेलन के तौर पर ही नहीं, बल्कि एक और वजह से भी चर्चा में है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस का उदयपुर में आयोजित तीन दिवसीय 'चिंतन शिविर' पार्टी की आगामी रणनीति तय करने वाले सम्मेलन के तौर पर ही नहीं, बल्कि एक और वजह से भी चर्चा में है। 'चिंतन शिविर' के साथ कांग्रेस की नई रणनीति देखने को मिल रही है, जिसके तहत पार्टी स्वतंत्रता सेनानियों को तवज्जो देते दिख रही है। यहां स्वतंत्रता सेनानियों के लगे पोस्टर और होर्डिग लोगों का ध्यान आकर्षित कर रहे हैं।

कांग्रेस की नई रणनीति दर्शा रहीं उदयपुर में लगी स्वतंत्रता सेनानियों की तस्वीरें, पोस्टरों के जरिए BJP को मुंहतोड़ जवाब

पोस्टरों में पार्टी अध्यक्षों के अलावा सुभाष चंद्र बोस, सरोजिनी नायडू जैसे कई स्वतंत्रता सेनानियों की तस्वीरें देखी जा सकती हैं। कहा जा रहा है कि यह परिवर्तन भाजपा की उस आलोचना का एक प्रकार से जवाब है, जिसमें वह आरोप लगाती रहती है कि कांग्रेस केवल चुनिंदा नेताओं को याद करती है और पी.वी. नरसिम्हा राव, सुभाष चंद्र बोस, लाला लाजपत राय और अन्य स्वतंत्रता सेनानियों जैसे नेताओं द्वारा किए गए योगदान की उपेक्षा करती है।

कांग्रेस की नई रणनीति दर्शा रहीं उदयपुर में लगी स्वतंत्रता सेनानियों की तस्वीरें, पोस्टरों के जरिए BJP को मुंहतोड़ जवाब


एक राजनीतिक विश्लेषक का कहना है कि इस बार पार्टी ने इन पोस्टरों के जरिए भाई-भतीजावाद के आरोपों का मुंहतोड़ जवाब दिया है।

कांग्रेस की नई रणनीति दर्शा रहीं उदयपुर में लगी स्वतंत्रता सेनानियों की तस्वीरें, पोस्टरों के जरिए BJP को मुंहतोड़ जवाब

इस बार चिंतन शिविर के दौरान शहर में पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत पी.वी. नरसिम्हा राव और दिवंगत लाल बहादुर शास्त्री सहित कई दिग्गज नेताओं की तस्वीरों के होर्डिग लगाए गए हैं। उदयपुर के मुख्य चौराहों, हवाईअड्डे से लेकर चिंतन शिविर स्थल तक सड़कों की दोनों ओर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, डॉ. भीमराव अंबेडकर, मौलाना अबुल कलाम आजाद, डॉ. राजेंद्र प्रसाद, पूर्व दिवंगत पीएम जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और मनमोहन सिंह सहित कई हस्तियों के होर्डिग्स लगाए गए हैं। शहर में गोपाल कृष्ण गोखले के साथ भगत सिंह और सरदार वल्लभभाई पटेल के होर्डिग भी देखे जा सकते हैं।

कांग्रेस की नई रणनीति दर्शा रहीं उदयपुर में लगी स्वतंत्रता सेनानियों की तस्वीरें, पोस्टरों के जरिए BJP को मुंहतोड़ जवाब

इस बीच, राज्य प्रभारी अजय माकन ने कहा, "पार्टी ने हमेशा स्वतंत्रता सेनानियों को याद किया है। स्वतंत्रता संग्राम में भाजपा और आरएसएस को कभी भी दूर-दूर तक नहीं देखा गया था।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia