मोदी सरकार को वापस लेने होंगे कृषि कानून, मेरी बात को गांठ बांध लें : राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा कि सरकार किसानों को नजरअंदाज नहीं कर रही है बल्कि उन्हें बर्बाद करने का षड्यंत्र रच रही है।

फोटो : @INCIndia
फोटो : @INCIndia
user

रवि प्रकाश

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने गुरुवार को तमिलनाडु में दावा किया कि मोदी सरकार को कृषि कानून को वापस लेना ही होगा। राहुल गांधी मदुरै के अवनियापुरम में थे जहां वो पोंगल के फसल उत्सव के दौरान आयोजित होने वाले पारंपरिक खेल 'जल्लीकट्टू' देखने आए थे। इसके बाद मीडिया से बात करते हुए राहुल गांधी ने कृषि कानूनों को लेकर मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि आप मेरी बात को गांठ बांध लीजिए, मोदी सरकार को कृषि कानून को वापस लेना होगा।

राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार किसानों को नजरअंदाज नहीं कर रही है बल्कि उन्हें बर्बाद करने का षड्यंत्र रच रही है। उन्होंने कि जिन कानूनों को मोदी सरकार जबरदस्ती लाई है, आप मेरी बात को गांठ बांध लीजिए, मोदी सरकार को कृषि कानून को वापस लेना होगा।राहुल गांधी ने कहा कि किसान इस देश की रीढ़ हैं। अगर किसी को लगता है कि आप किसानों को दबा सकते हैं और यह देश समृद्ध होता रहेगा, तो उन्हें हमारे इतिहास को देखना होगा। जब भी भारतीय किसान कमजोर होते हैं, भारत कमजोर होता है। राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि सरकार किसानों को इसलिए बर्बाद करने की कोशिश कर रही है क्योंकि वह अपने दो-तीन मित्रों को लाभ पहुंचाना चाहती है। कांग्रेस नेता ने कहा कि वो किसानों के साथ हैं और उनकी हर मांग का समर्थन करते हैं। जिन कानूनों को मोदी सरकार जबरदस्ती लाई है, उन्हें वापस ले जाना ही होगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि चीनी सैनिक भारतीय क्षेत्र के अंदर बैठे हैं। आज चीनी सेना हमारी जमीन में घुसी हुई है, लेकिन सरकार कुछ नहीं कर रही है।

वहीं राहुल गांधी ने उन लोगों को चेतावनी दी जो तमिल संस्कृति के बारे में आलोचना करते रहते हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग कहते हैं कि तमिल कल्चर खत्म हो जाएगा, वो गलत हैं। वहीं कार्यक्रम स्थल पर एक संक्षिप्त भाषण में राहुल गांधी ने कहा कि वह उन लोगों को एक संदेश देने आए थे जो कहते हैं कि तमिल संस्कृति खत्म हो जाएगी। उन्होंने कहा कि तमिल संस्कृति और इतिहास को देखना एक प्यारा अनुभव है। उन्होंने कार्यक्रम को व्यवस्थित तरीके से आयोजित करने के लिए जल्लीकट्टू आयोजकों की सराहना की ताकि ये खेल सुरक्षित तरीके से हो।

उन्होंने कहा कि उन्हें तमिलनाडु के लोगों से बहुत प्यार और स्नेह मिला है। तमिल इतिहास और संस्कृति की रक्षा की जाएगी और वो इसके बारे में जानने आए थे। उन्होंने लोगों को 'हैप्पी पोंगल' कह कर शुभकामनाएं दी। तमिलनाडु कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के.एस. अलागिरी और डीएमके यूथ विंग के सचिव उदयनिधि स्टालिन ने भी राहुल गांधी के साथ 'जल्लीकट्टू' कार्यक्रम देखा।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


    Published: 14 Jan 2021, 5:10 PM
    लोकप्रिय
    next