शरद पवार गुट को मिली नई पहचान, ‘एनसीपी शरदचंद्र पवार’ के नाम से चुनाव में ठोकेंगे ताल

चुनाव आयोग ने मंगलवार को शरद पवार गुट को झटका देते हुए अजित गुट को असली एनसीपी करार दिया था। आयोग ने कहा था कि सभी सबूतों को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया गया है। आयोग ने अजित पवार गुट को एनसीपी का चुनाव चिह्न इस्तेमाल करने का अधिकार भी दे दिया।

शरद पवार गुट को मिली नई पहचान, ‘एनसीपी शरदचंद्र पवार’ के नाम से लड़ेंगे चुनाव
शरद पवार गुट को मिली नई पहचान, ‘एनसीपी शरदचंद्र पवार’ के नाम से लड़ेंगे चुनाव
user

नवजीवन डेस्क

एक दिन पहले अजित पवार गुट को असली एनसीपी करार दिए जाने के बाद आज शरद पवार गुट को चुनाव आयोग से पार्टी का नया नाम मिल गया है। शरद पवार गुट की पार्टी का नया नाम 'एनसीपी शरद चंद्र पवार' होगा और उनका गुट इसी नाम से आगामी चुनाव लड़ेंगे। इसी के साथ महाराष्ट्र में सियासी हलचल तेज होने की पूरी संभावना है।

मंगलवार को एनसीपी की कमान छिनने के बाद आज शरद पवार गुट ने शाम 4 बजे से कुछ देर पहले ही चुनाव आयोग को नई पार्टी के नाम और चुनाव चिह्न के लिए अपने तीन विकल्प सौंपे थे। आयोग ने शरद पवार गुट को नई पार्टी का नाम और निशान तय करने हेतु अपने विकल्प सुझाने के लिए बुधवार शाम तक की समयसीमा दी थी।


अब खबर है कि चुनाव आयोग ने शरद पवार गुट की पार्टी के लिए 'एनसीपी शरद चंद्र पवार' को मंजूरी दे दी है। सूत्रों के अनुसार, शरद पवार गुट ने चाय के कप के साथ सूर्यमुखी के फूल और उगते सूरज को चुनाव चिह्न के तौर पर अपनाने का प्रस्ताव रखा था। वहीं, नई पार्टी के नाम के तौर पर शरद पवार कांग्रेस, मी राष्ट्रवादी और शरद स्वाभिमानी पक्ष नाम से तीन विकल्प सुझाए थे।

चुनाव आयोग ने मंगलवार को शरद पवार गुट को झटका देते हुए अजित गुट को असली एनसीपी करार दिया था। आयोग ने कहा था कि सभी सबूतों को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया गया है। आयोग ने अजित पवार गुट को एनसीपी का चुनाव चिह्न इस्तेमाल करने का अधिकार भी दे दिया। आयोग ने कहा कि सभी दस्तावेजी सबूतों का विश्लेषण करने से स्पष्ट है कि अजित गुट का पार्टी और पार्टी के अलावा संगठन पर वर्चस्व है।


बता दें कि पिछले साल शरद पवार से बगावत करते हुए अजित पवार ने एनसीपी दो फाड़ कर दी थी और महाराष्ट्र की बीजेपी-एकनाथ शिंदे सरकार में शामिल हो गए थे। एनसीपी के कई विधायक भी अजित के साथ चले गए थे। इसके बाद अजित ने पार्टी पर अधिकार का भी दावा किया था और अपने गुट को असली एनसीपी बताया था। विधानसभा अध्यक्ष ने अजिट गुट को असली एनसीपी करार दे दिया था। इस फैसले को शरद पवार गुट ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। इधर अब चुनाव आयोग ने भी अजित गुट को असली एनसीपी करार दे दिया है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;