राजनीति

बीजेपी में शामिल हुआ जीजा तो एसपी सांसद ने पत्र लिखकर किया रिश्ता तोड़ने का ऐलान

उत्तर प्रदेश के बदायूं से एसपी सांसद और मुलायम सिंह के भतीजे धर्मेंद्र यादव ने अपने बहनोई के बीजेपी में शामिल होने के कारण उनसे रिश्ता तोड़ा लिया है। उन्होंने एक प्रेस विज्ञपति जारी कर कहा कि बीजेपी के किसी भी नेता से मेरा कभी कोई संबंध नहीं हो सकता।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

देश में चुनाव की तारीख करीब आते-आते रिश्तों पर भी चुनावी रंग चढ़ने लगता है। ऐसे हालत में चुनाव के दौरान पार्टी और विचारधारा में विरोध की वजह से रिश्तों में खटास तक आ जाता है। रिश्तों में इसी तरह की खटपट उत्तर प्रदेश के बड़े राजनीतिक परिवार में देखने को मिली है। दरअसल बदायूं से समाजवादी पार्टी (एसपी) सांसद धर्मेंद यादव ने बहनोई अनुजेश प्रताप सिंह यादव के बीजेपी में शामिल होने पर उनसे रिश्ता तोड़ लिया है।

इस बात की जानकारी खुद सांसद धर्मेंद्र यादव ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी है। प्रेस नोट में उन्होंने लिखा है- मीडिया के जरिये पता चला है कि अनुजेश प्रताप सिंह बीजेपी में शामिल हो गए हैं। मीडिया में उन्हें मेरे बहनोई के रूप में प्रस्तुत कर सुर्खियां बटोरने की कोशिश की गई। मैं यह स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि बीजेपी के किसी भी नेता से मेरा कभी कोई संबंध नहीं हो सकता। ऐसे में अब अनुजेश प्रताप सिंह से भी मेरा कोई संबंध नहीं है। भविष्य में उन्हें कभी भी मेरे रिश्तेदार के रूप में पेश न किया जाए।

बीजेपी में शामिल हुआ जीजा तो एसपी सांसद ने पत्र लिखकर किया  रिश्ता तोड़ने का ऐलान

गौरतलब है कि बदायूं से एसपी सांसद और मुलायम सिंह के भतीजे धर्मेंद यादव के बहनोई और फिरोजाबाद जिला पंचायत अध्यक्ष अनुजेश प्रताप सिंह यादव रविवार को बीजेपी में शामिल हुए थे। अनुजेश यादव, धर्मेंद्र यादव की बहन संध्या उर्फ बेबी यादव के पति हैं, जो मैनपुरी जिला पंचायत अध्यक्ष हैं। अनुजेश के बीजेपी में शामिल होने की खबर जैसे ही धर्मेंद्र याद को लगी, उन्होंने बयान जारी कर उनसे सभी रिश्ते तोड़ लिए। बता दें कि रविवार को बीजेपी में शामिल हुए अनुजेश यादव को 2017 में पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते समाजवादी पार्टी से निष्काषित किया जा चुका है।

लोकप्रिय