लॉकडाउन के बीच दिल्ली से पटना पहुंचे तेजस्वी, बीजेपी ने साधा निशाना, तेजप्रताप बोले- मेरा अर्जुन आ गया

कोरोना वायरस संक्रमण के कहर बीच बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव पटना पहुंच गए हैं। उनके पटना पहुंचने पर भारतीय जनता पार्टी ने कटाक्ष करते हुए उन्हें 21 दिनों तक क्वारंटीन सेंटर में रहने को कहा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कोरोना वायरस संक्रमण के कहर बीच बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव पटना पहुंच गए हैं। उनके पटना पहुंचने पर भारतीय जनता पार्टी ने कटाक्ष करते हुए उन्हें 21 दिनों तक क्वारंटीन सेंटर में रहने को कहा है। कोरोना संक्रमण के इस दौर में पटना से बाहर रहने पर विराधियों के निशाने पर चल रहे राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता सोमवार की देर रात सड़क मार्ग से पटना पहुंचे हैं। यह जानकारी तेजस्वी के बड़े भाई और राज्य के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने मंगलवार को दी। उन्होंने कहा कि तेजस्वी विशेष अनुमति मिलने के बाद पटना पहुंचे हैं।

तेजप्रताप ने संवाददाताओं से बात करते हुए अपने अंदाज में कहा, "मेरा अर्जुन आ गया है। अब मैं और अर्जुन मिलकर लड़ाई लड़ेंगे।" उन्होंने कहा कि अभी चुनाव नहीं, कोरोना पर फोकस है। कोरोना संक्रमण से लड़ाई लड़नी है, इसके लिए तेजस्वी से मिलकर जल्द ही रणनीति बनेगी।

उल्लेखनीय है कि आरजेडी के विरोधी तेजस्वी के इस दौर में बिहार से बाहर रहने पर लगातार निशाना साध रहे थे। इधर तेजस्वी के पटना लौटने पर बीजेपी ने तेजस्वी पर कटाक्ष किया किया है। बीजेपी के प्रवक्ता डॉ. निखिल आनंद ने ट्वीट कर लिखा, "कोरोना के खिलाफ युद्धरत बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भाई देश-विदेश के किसी गुप्त स्थान पर ऐशो-आराम फरमा रहे थे। हमलोग आने के लिए कहे, लेकिन नहीं माने। जब जनता ने 'तेजस्वी भगोड़ा है' व 'तेजस्वी लापता है' ट्विटर ट्रेंड कराना शुरू किया तो आ गए। बिहार में तेजस्वी जी का स्वागत है।"

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, "लॉकडाउन में भारत और बिहार सरकार का नियम-कानून सभी पर लागू होता है। तेजस्वी भी दिल्ली से आने के बाद जांच-स्क्रीनिंग कराएं और 21 दिन का वक्त किसी कोरेंटाइन सेंटर में बिताएं। सिर्फ जुबानी जुगाली करने से नहीं होगा, अब सिस्टम को फॉलो कीजिए जिससे व्यवस्था का अनुभव भी होगा।"

लोकप्रिय