यूपी चुनाव में इस बार बहुरंगी गठबंधन एकरंगी को हराएगा- अखिलेश-जयंत ने आगरा में साझा प्रेस कांफ्रेंस में किया दावा

आरएलडी अध्यक्ष जयंत चौधरी ने कहा कि बीजेपी सरकार के दावे खोखले हैं। आंबेडकर ने नागरिकों को जो अधिकार दिए उन मूल्यों को बचाने के लिए यही गठबंधन उत्तप प्रदेश के मतदाताओं के लिए एकमात्र विकल्प है। लाठी, बुल्डोजर चलाने से आगरा का विकास नहीं हो सकता।

फोटोः @samajwadiparty
फोटोः @samajwadiparty
user

नवजीवन डेस्क

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव और राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने शुक्रवार को आगरा में एक संयुक्त प्रेसवार्ता को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने बीजेपी के दावों को खोखला बताया और कहा कि लाठी, बुल्डोजर चलाने से आगरा का विकास नहीं हो सकता। अखिलेश यादव ने इस दौरान कहा कि ये बहुरंगी गठबंधन है, लाल सपा का है, रालोद के साथ इस बार सफेद भी है। वहीं आंबेडकरवादी नीला रंग भी है। इस बार एकरंगी लोगों को हराएंगे।

अखिलेश यादव ने कहा कि नौकरी-रोजगार के लिए नौजवानों को सरकार ने अपमानित किया। अखिलेश ने कहा कि इस बार के चुनाव में एक-एक यूथ अपने बूथ से बीजेपी को ऐतिहासिक हार दिलाएगा। उन्होंने योगी पर हमला करते हुए कहा कि क्या मुख्यमंत्री कंप्रेशर हैं जो गर्मी निकाल देंगे। इस बार गोरखपुर की जनता उत्तराखंड भेज देगी।

कोरोना काल की बात करते हुए अखिलेश ने कहा कि न दवाएं दे सके और न इलाज। मुरैना का एक युवक लॉकडाउन में अपने घर नहीं पहुंच सका, रास्ते में दम तोड़ दिया। सूटकेस पर एक मां अपने बच्चे को ले जा रही थी और यहां के अधिकारी कह रहे थे कि बचपन में हम भी सूटकेस पर बैठकर गए थे। सरकार जागरूक नहीं थी।


सपा मुखिया ने कहा कि सरकार ने कारोबार पर सहयोग नहीं किया। एक जिला-एक उत्पाद ठप हो गया। डबल इंजन की सरकार ने कारोबार ठप कर दिया। जितने भी बड़े काम हैं सपा सरकार में शुरू हुए थे। पीने के पानी के गंगाजल प्रोजेक्ट को समाजवादी सरकार ने दिया। मेट्रो समाजवादी सरकार की देन है। सरकार सपा शासनकाल के कार्यों को अभी भी पूरा नहीं कर पा रही है। तकलीफ म्यूजियम से भी थी। सरकार ने अभी तक म्यूजियम पूरा नहीं किया। वहां पहुंचकर चौकीदार से पूछा कि एसी क्यों नहीं लगे, बताया कि इनकी वारंटी भी खत्म हो गई। छत्रपति शिवाजी की प्रतिमा लगेगी और जीजाबाई की प्रतिमा भी लगेगी। आगरा गंगाजमनी तहजीब का शहर है। ताजगंज को हजरतगंज से समाजवादी पार्टी की सरकार ने जोड़ा।

सपा प्रमुख ने औवेसी पर हुए हमले का जवाब देते हुए कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था पर बड़ा सवाल है। अपराधी प्रदेश छोड़ने की बात करते थे लेकिन ये घटना निंदनीय है। सपा ने विकास के लिए कई कार्य किए, मथुरा-वृंदावन में लाखों सैलानी आते थे। पर्यटकों के लिए साइकिल हाईवे बनाया था, लायन सफारी बनाई गई। चंबल के इलाके में बर्ड फेस्टिवल कराया गया। बाबा मुख्यमंत्री को नफरत से लगाव है, इन्हें किसी से लगाव नहीं है।

इस मौके पर अखिलेश यादव ने जहां आगरा शहर को प्रेम और सौहार्द्र का शहर बताया वहीं जयंत चौधरी ने खेती और आलू किसानों के हितों की बात सामने रखी। जयंत चौधरी ने कहा कि चौधरी चरण सिंह ने हमेशा आगरा के लिए कार्य किए। यहां के किसानों के लिए काम किए। आगरा में आलू किसान को कुछ नहीं मिला। जयंत ने बुलंदशहर की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि सरकार के दावे और वादे खोखले हैं।

पत्रकारों से बात करते हुए रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी बोले कि बीजेपी सरकार के दावे खोखले हैं। आंबेडकर ने नागरिकों को जो अधिकार दिए उन मूल्यों को बचाने के लिए यही गठबंधन उत्तप प्रदेश के मतदाताओं के लिए एक विकल्प है। लाठी, बुल्डोजर चलाने से आगरा का विकास नहीं हो सकता।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia