यूपी विधानसभा चुनाव: समाजवादी पार्टी ने चुनाव आयोग से इन अधिकारियों को पदों से हटाने की मांग क्यों की?

समाजवादी पार्टी (सपा) ने भारतीय निर्वाचन आयोग को पत्र लिखकर दो आईएएस और दो आईपीएस अधिकारियों को हटाने की मांग की है, ताकि उत्तर प्रदेश में स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित किया जा सके।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

समाजवादी पार्टी (सपा) ने भारतीय निर्वाचन आयोग को पत्र लिखकर दो आईएएस और दो आईपीएस अधिकारियों को हटाने की मांग की है, ताकि उत्तर प्रदेश में स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित किया जा सके। सपा सचिव राजेंद्र चौधरी द्वारा भेजे गए पत्र में आरोप लगाया गया है कि ये अधिकारी भाजपा कार्यकर्ताओं की तरह काम कर रहे थे।

पत्र में जिन अधिकारियों के नाम हैं, वे- अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी; अतिरिक्त मुख्य सचिव (सूचना) नवनीत सहगल; अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी) कानून एवं व्यवस्था प्रशांत कुमार और एडीजी, स्पेशल टास्क फोर्स अमिताभ यश हैं।

यूपी विधानसभा चुनाव: समाजवादी पार्टी ने चुनाव आयोग से इन अधिकारियों को पदों से हटाने की मांग क्यों की?

पत्र में आगे कहा गया है कि चूंकि ये अधिकारी प्रभावशाली पदों पर हैं, इसलिए स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव तब तक संभव नहीं होगा, जब तक उन्हें हटाया नहीं जाता।

यूपी में 7 चरणों में होने चुनाव

बता दें कि यूपी में 7 चरणों में चुनाव होंगे। पहले चरण के तहत 10 फरवरी को वोटिंग होगी। दूसरा चरण 14 फरवरी, तीसरा चरण 20 फरवरी, चौथा चरण 23 फरवरी, 5वां चरण 27 फरवरी, छठा चरण 3 मार्च और 7वां चरण 7 मार्च को संपन्न होगा। 10 मार्च को मतगणना होगी और नतीजे आएंगे। यूपी विधानसभा का कार्यकाल 14 मई 2022 को पूरा हो रहा है। ऐसे में 14 मई से पहले हर हाल में विधानसभा और नई सरकार के गठन की प्रकिया पूरी होनी है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 09 Jan 2022, 6:42 PM